New India News
हेल्थ

रायपुर में ब्रेन वेव एनालिसिस सेंटर की हुई शुरुवात

 

 

  • जान सकेंगे मानसिक क्षमता एवं मनःस्थिति
  • यह टेक्नोलॉजी US पेटेंट है, जिसका उपयोग रिसर्च के लिए आईआईटी गांधीनगर जैसे संस्थाओं ने भी किया है।
  • जिसकी एक्यूरेसी 92% से भी ज्यादा है।

Newindianews/CG क्या आपने कभी सुना है कि आपके दिमाग की क्षमता को जाना जा सकता है? जी हां, यह सच है। आपकी मनःस्थिति और आपकी मानसिक क्षमता का विश्लेषण किया जा सकता है। इसके जरिये सिर्फ तीन हजार रुपये में किसी भी व्यक्ति के दिमाग का एनालिसिस किया जा सकता है।

डॉ. डोमेन्द्र सिंह गंजीर जी के पास एक ऐसा डिवाइस और टेक्नोलॉजी है जिसका उपयोग करके वो दिमाग को पढ़ने और मानसिक विकार दूर करने में कर रहे हैं. इस टेक्नोलॉजी को ब्रेन वेव एनालिसिस कहा जाता

इस टेक्नोलॉजी को भारत में लाने वाले डॉ अंकित कहते हैं कि ब्रेन वेव टेक्नोलॉजी न्यूरोसाइंस और बिहेवियर साइंस के आधार पर काम करती है। अमेरिका में विकसित की गई है एवम यह टेक्नोलॉजी US पेटेंट है, जिसका उपयोग रिसर्च के लिए आईआईटी गांधीनगर जैसे संस्थाओं ने भी किया है।
दिमाग में पांच तरह की तरंगे होती हैं, जो अलग-अलग परिस्थितियों और क्षमताओं की जानकारी देती है।

उन्होंने बताया कि यह कोई चमत्कार नहीं है। विशुद्ध रूप से विज्ञान है, जिसे कई वर्षों की रिसर्च से विकसित किया गया है। यह न्यूरो साइंस का हिस्सा है, जिसके आधार पर मानसिक रोगों को भी दूर किया जा सकता है।

तरंगों से कैसे होता है एनालिसिस
डॉ. डोमेन्द्र का कहना है कि ब्रेन वेव एनालिसिस से पता चलता है कि किसी व्यक्ति के दिमाग में किस तरंग का प्रभाव ज्यादा या कम है। उसके आधार पर बताया जा सकता है कि वह व्यक्ति गहरी नींद लेता है या नहीं। उसका मानसिक संतुष्टि का स्तर कैसा है और वह दिमाग को कितना कंट्रोल कर लेता है। यह जानकारी पता चलने पर उपचार के तौर पर हमने कुछ खास तरह के म्यूजिक विकसित किए हैं। यह दिमाग की तरंगों को संतुलित करने में मदद करता है।

ब्रेन वेव एनालिसिस एक एडवांस साइंटिफिक टूल है। इसके हार्डवेयर और सॉप्टवेयर की मदद से ब्रेन वेव को रिकॉर्ड किया जाता है। विश्लेषण कर पता लगाया जाता है कि किस वेव का प्रभाव कितना है। इससे यह पता लगाया जा सकता है कि किसी बच्चे या बडो की मानसिक क्षमता क्या है? बदलती जीवनशैली की वजह से बढ़ते तनाव को भी इससे मापा जा सकता है। बच्चे का फोकस कैसा है| यह सुविधा शॉप नंबर 9, ग्राउंड फ्लोर , आर डी ए कॉम्प्लेक्स, न्यू राजेंद्र नगर, रायपुर, छत्तीसगढ़ में उपलब्ध है।

क्या बताती हैं दिमाग की पांच तरंगें
अल्फा वेव्सः दिमाग पर कंट्रोल, विचारों में संतुलन के बारे में बताती हैं।
बीटा वेव्सः किसी भी व्यक्ति की नए काम को सीखने-समझने की क्षमता, याददाश्त, बुद्धिमता को बताती है।
गामा वेव्सः गुस्सा, मूड स्विंग, बेचैनी, एंजाइटी जैसे विकारों का पता चलता है।
थीटा वेव्सः सोचने की प्रक्रिया, भावनाओं, जरूरत से ज्यादा सोचने जैसी परिस्थितियां बताती हैं।
डेल्टा वेव्सः नींद की गुणवत्ता, संतुष्टि, आत्मसम्मान के बारे में बताती हैं।

Related posts

ममता बनर्जी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की फाइलों पर केंद्र को लिया आड़े हाथ कही ये बात…

newindianews

सुबह पानी बिना ब्रश किये या करके पीना चाहिए क्या सबसे हेल्दी होता है ?

newindianews

अब कमाई का पहिया तेजी से घूमेगाः मंत्री श्री गुरु रुद्र कुमार

newindianews

Leave a Comment