New India News
देश-विदेशनवा छत्तीसगढ़

संसदीय सचिव एवं विधायक ने किया जिला मुख्यालय बालोद में ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ का शुभारंभ

Newindianews/CG मुख्यालय बालोद के रेंज ऑफिस परिसर में आज कृष्ण जनमाष्टमी पर्व के अवसर पर संसदीय सचिव श्री कुंवर सिंह निषाद, संजारी-बालोद विधायक श्रीमती संगीता सिन्हा एवं अन्य अतिथियों ने ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ का शुभारंभ किया। उल्लेखनीय है छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पर्यावरण सुरक्षा एवं हमारे धार्मिक महत्व के बरगद, पीपल, पलाश आदि पेड़-पौधों का संरक्षण एवं संवर्द्धन सुनिश्चित करने हेतु प्रदेश के नगरीय निकायों में ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ की स्थापना की जा रही है। इसके अंतर्गत जिला मुख्यालय बालोद के रेंज ऑफिस परिसर में 03 एकड़ के विशाल क्षेत्र में स्थापित की गई इस बेहतरीन ‘‘कृष्ण कुंज‘‘ में बड़ी संख्या में औषधीय एवं फलदार वृक्षों का रोपण कर पर्यावरण की सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ-साथ हमारी सांस्कृतिक मूल्यों को भी सहेजने का अभिनव प्रयास किया जा रहा है।

इस कुॅज में हमारी सांस्कृतिक महत्व के रूद्राक्ष, चंदन, बरगद, पीपल आदि वृक्षों के अलावा आंवला, नीम, बेल, चीकू, आम आदि फलदार एवं औषधीय पौधों का भी रोपण किया गया है। आज लोकार्पित यह ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ यहॉ आने वाले आगन्तुकों एवं आमलोगों को बेहतरीन परिवेश उपलब्ध कराने के साथ-साथ उनके लिए आकर्षण का केन्द्र भी बनेगा। ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ के लोकार्पण के अवसर पर आज अतिथियों के अलावा, जिला प्रशासन के आला अधिकारियों एवं कर्मचारियों तथा बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधियों एवं आम नागरिकों ने बरसते पानी में भी पूरे समय कार्यक्रम मंे डटे रहकर इस महत्वपूर्ण अवसर के साक्षी बने। इस अवसर पर  ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ में भगवान श्री कृष्ण का विधिवत पूजा-अर्चना भी किया गया।  ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ के लोकार्पण के अवसर पर नगर पालिका परिषद बालोद के अध्यक्ष श्री विकास चोपड़ा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री मिथिलेश निरोटी, जनपद पंचायत बालोद की अध्यक्ष श्रीमती प्रेमलता साहू, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती चंद्रप्रभा सुधाकर, श्रीमती धनेश्वरी सिन्हा सहित कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र कुमार यादव, वनमण्डलाधिकारी श्री आयुष जैन के अलावा अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए संसदीय सचिव श्री कुंवर सिंह निषाद ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश की मंशा के अनुरूप हमारे पर्यावरणीय विरासत एवं सांस्कृतिक मूल्यों को सहेजने के लिए भगवान श्री कृष्ण के जन्मदिवस के अवसर पर आज प्रदेश के नगरीय निकायों में कृष्ण कुॅज की स्थापना की जा रही है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार की अत्यंत महत्वाकंाक्षी नरवा, गरूवा, घुरवा एवं बाड़ी योजना के पश्चात् प्रदेश के नगरीय निकायों में ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ की स्थापना का महत्वपूर्ण कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का सोंच है कि पर्यावरण की सुरक्षा एवं हमारे धार्मिक एवं सांस्कृतिक महत्व के वृक्षों के संरक्षण एवं संवर्द्धन हेतु ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ में औषधीय एवं फलदार वृक्षों का अधिक से अधिक रोपण कर उनके सुरक्षा का समुचित उपाय सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि यह कार्य अपने आप में अभिनव एवं अत्यंत महत्वपूर्ण है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इसके माध्यम से भगवान श्री कृष्ण के साथ आमजनता को सीधा जोड़ने का महत्वपूर्ण कार्य किया है। उन्होंने आशा व्यक्त किया कि यह ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ आमजनता के लिए बहुत ही उपयोगी सिद्ध होगा।
इस अवसर पर संजारी-बालोद विधायक श्रीमती संगीता सिन्हा ने उपस्थित लोगों को कृष्ण जनमाष्टमी की बधाई एवं शुभकामनाएॅ देते हुए ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ की स्थापना के महत्व एवं उद्देश्यों के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के द्वारा इस ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ के माध्यम से हमारे बहुमूल्य पेड़ पौधों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ-साथ हमारे सांस्कृतिक महत्व के चीजों को भी संरक्षण व संवर्द्धन करने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने आशा व्यक्त किया कि 03 एकड़ के विशाल क्षेत्र में फैला यह ‘‘कृष्ण कुॅज‘‘ लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र भी बनेगा। वनमण्डलाधिकारी श्री आयुष जैन ने स्वागत भाषण प्रस्तुत करते हुए कृष्ण कुॅज के स्थापना के महत्व के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस कृष्ण कुॅज में बड़ी संख्या में औषधीय, फलदार एवं सांस्कृतिक महत्व के पौधों का रोपण किया गया है। यह कृष्ण कुॅज प्रतिदिन सुबह 05 से 09.30 बजे तथा शाम को 06 बजे से 10 बजे तक आमलोगों के अवलोकन के लिए खुला रहेगा। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में स्कूल बच्चे व आम नागरिक उपस्थित थे।

Related posts

मुख्यमंत्री से छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय अधिवक्ता संघ के प्रतिनिधिमंडल ने की सौजन्य मुलाकात

newindianews

लालबहादुर शास्त्री वार्ड 34 में शनिवार को होगा निशुल्क नेत्र जांच शिविर

newindianews

रायपुर : छत्तीसगढ़ में कृषि आधारित स्टार्टअप्स की असीम संभावनाएं: डॉ. चंदेल

newindianews

Leave a Comment