New India News
देश-विदेशराजनीति

प्रदेशवासियों का स्नेह व सम्मान पाकर अभिभूत, आपका स्नेह ही मेरी ऊर्जा: सुश्री उइके

Newindianews/ Raipur राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके के प्रदेश के राज्यपाल के पद पर तीन वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने के अवसर पर आज राजभवन के दरबार हॉल में छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग एवं समस्त विश्वविद्यालयों द्वारा सम्मान समारोह आयोजित किया गया। प्रदेश के सभी शासकीय एवं निजी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने राज्यपाल सुश्री उइके को स्मृति चिन्ह, उनकी स्केच, शॉल और श्रीफल देकर सम्मानित किया।
राज्यपाल सुश्री उइके ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सम्मान समारोह के आयोजन के लिए निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग सह विश्वविद्यालयों का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रदेशवासियों का स्नेह व सम्मान ही मेरी ऊर्जा है। छत्तीसगढ़ राजभवन को राष्ट्रीय स्तर पर जो ख्याति मिली है, वह यहां की जनता के स्नेह का परिणाम हैं। कोविड महामारी की विपरीत परिस्थितियों में विश्वविद्यालयों ने भी शिक्षा के साथ कोरोना संबंधी जागरूकता जैसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी का निर्वहन किया। चुनौतीपूर्ण समय में विद्यार्थियों के साथ खड़े रहकर उनका सहयोग और मार्गदर्शन किया। राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि सदन में उपस्थित आप सभी महत्वपूर्ण पदों पर हैं, जब आपके विद्यार्थी अच्छा काम करते हैं या उपलब्धि हासिल करते हैं तो आप सबको खुशी होती है। वैसे ही जब प्रदेश का यश बढ़ता है तो प्रदेशवासियों की तरह मैं भी गौरवान्वित महसूस करती हूं। राज्यपाल ने अपने संबोधन में राजभवन सचिवालय द्वारा किए जा रहे नवाचारों की भी जानकारी दी। साथ ही राजभवन सचिवालय द्वारा प्रारंभ की गई त्रैमासिक पत्रिका ‘एक आशा’ के बारे में बताया।
छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के अध्यक्ष डॉ. उमेश मिश्रा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि निजी विश्वविद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता तथा राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए राज्यपाल का सतत् मार्गदर्शन मिल रहा है। उनके नेतृत्व में उच्च शिक्षा के माध्यम से कौशल सृजन के लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। राज्यपाल की सहजता और कार्य के प्रति निष्ठा से विद्यार्थियों के साथ-साथ हम सभी सदैव प्रोत्साहित होते हैं। इस मौके पर छत्तीसगढ़ निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के सदस्य श्री बृजेश चंद्र मिश्रा ने आयोग की गतिविधियों की जानकारी दी और राज्यपाल सुश्री उइके के तीन वर्ष पूर्ण करने पर अभिनंदन पत्र का वाचन किया। विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने भी कार्यक्रम को संबोधित कर अपने विचार साझा किए।
कार्यक्रम में राज्यपाल के सचिव श्री अमृत कुमार खलखो, राज्यपाल के विधिक सलाहकार श्री राजेश श्रीवास्तव, उपसचिव श्री दीपक कुमार अग्रवाल, सभी राजकीय एवं निजी विश्वविद्यालयों के कुलपतिगण, कुल सचिव सहित राजभवन सचिवालय के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Related posts

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ी हमारी मातृ भाषा और हमारा अभिमान है

newindianews

शहीदों के परिजनों तक पहुंचा मुख्यमंत्री का दिवाली का शुभकामना पत्र, उपहार

newindianews

पीसीसी अध्यक्ष दीपक बैज ने कहा लोकसभा चुनाव के लिये जुट जाये

newindianews

Leave a Comment