New India News
Other

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से अंक 76

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं को 1 अप्रैल 2023 से बढ़ा मानदेय का आदेश जारी…

महिला एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत कार्यरत आंगन‌बाड़ी कार्यकर्ता, सहायिकाओं और मिनी आंगनबाड़ी कार्यकताओं को 1 अप्रैल 2023 से बढ़ा हुआ मानदेय देने का आदेश संचालनालय से जारी हो गया है। बढ़ा हुआ मानदेय देने का प्रावधान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वर्ष 2023-24 के प्रस्तुत बजट में घोषणा की थी। मानदेय बढोत्तरी से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 10 हज़ार, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को 7500 तथा सहायिकाओं को 5 हज़ार रुपए का बढ़ा मानदेय मिलेगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता काफी समय से मानदेय बढ़ाने की मांग कर रहीं थी, जिसे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मान कर आदेश जारी कर दिया है। गौरतलब है कि पूरे राज्य में 46 हजार 660 आंगनबाड़ी केंद्रों में कार्यरत का मानदेय बढ़ाया गया है। पहले इन आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 6500 रुपये, सहायिकाओं को 3250 रुपए तथा किसी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 4500 रुपए का मानदेय मिलता था, जिसमे बढ़ोत्तरी के आदेश भी जारी हो गए हैं।

बिलासपुर में मल्टीलेवल कार पार्किग की सौगात: लोकार्पण हुआ…


हमर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान बिलासपुर कलेक्टोरेट (परिसर) में नये मल्टीलेवल कार एवं मोटर सायकिलों के लिए मल्टीलेवल पार्किंग का लोकार्पण कर बिलासपुर विधानसभा को सौगात दी है। मल्टीलेवल पार्किंग 25 हज़ार वर्गपुट क्षेत्र में 16 करोड़ 88 लाख रुपए की लागत से बनाया गया है। म‌ल्टीलेवल पार्किंग में 257 कारें तथा 333 मोटर सायकिलों की पार्किंग क्षमता है। इस भवन में सीढ़ियों के साथ ही दो लिफ्ट भी लगाई गई हैं। इमरजेंसी में फायर फाइटिंग सिस्टम भी लगाया गया है। इससे शहर के व्यस्ततम इलाके में पार्किंग और ट्रैफिक की समस्या से निजात मिलेगी। यहाँ नेहरू नगर व कलेक्टोरेट और बड़ी संख्या में भीड़ आने से लोगों को पार्किंग एवं ट्रैफिक की समस्या से जुझना पड़ता था, अब इससे निजात मिल गई है।

‘मदर्स डे’ पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट लिखा “माँ, बहुत याद आती हैं आप….”


‘मदर्स डे’ पर मुख्य मंत्री भूपेश बघेल ने अपनी माँ को याद करते हुए बड़ा ही इमोशनल टवीट कर लिखा – ‘आपका ना होना, मेरे होने को हमेशा अधूरा रखता है। मां, आप बहुत याद आती हैं। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री का अपनी माँ से बेहद लगाव था हर मदर्स डे पर अपनी माँ को बड़ी भावुकता से याद करते हैं। माँ की फोटो के साथ ट्वीट में मुख्यमंत्री ने लिखा ‘मांग लूं यह मन्नत की फिर यही जहाँ मिले, फिर वही गोद… फिर वही माँ मिले….।

युवा बेटी का स्टँट, पिता कार चला रहे थे, पुलिस ने वसूला चालान….

मोटर सायकल में स्टंटबाजी युवाओं में आम हो गई है, अब एक युवती का कार की खिड़की से निकलकर स्टंटबाजी वायरल हो रही है। गौरतलब है कि युवती का पिता ही कार चला रहे थे, जो भिलाई इस्पात संयंत्र में अधिकारी है। युवती की स्टंटबाजी का वीडियो कार में पीछे बैठा युवक ही बना रहा था। स्टंट का वीडियो वायरल होते ही ट्रैफिक पुलिस के संज्ञान में लाया गया। दुर्ग जिले के पुलिस कप्तान अभिषेक पल्लव के निर्देश पर ट्रैफिक डीएसपी सतीश ठाकुर ने कार चालक के खिलाफ 2800 रुपए का चालान काटा है और दोबारा ऐसा ना करने के लिए मांफी भी मंगवाई है। यहां मालूम रहे कि पहले भी दुर्ग जिले व भिलाई में युवाओं द्वारा मोटर सायकल पर जोखिम भरा स्टंट व रोमांस करते हुए स्टंट पर कड़ी कार्रवाई की जा चुकी है परन्तु अब बेटी के स्टंट करते कार को खुद ही उसके पिता ड्राइव कर रहे थे, जो अब बीएसपी अधिकारी को भारी पड़ गया है। कार के पीछे चल रहे युवको ने भी वीडियो बना कर वायरल कर दिया था। कार में अधिकारी के घर के लोग भी बैठे थे। बीएसपी अधिकारी पिता ने दोबारा ऐसा ना करने और दूसरे भी ऐसी गलती ना करें, यह कहकर पुलिस से माफी मांगी है। गौरतलब है कि ऐसी स्टंटबाजी करना निहायत ही जोखिम भरा काम है, ऐसा ना किया करें।

“विश्व मलखंब चैंपियनशिप’ में अबूझमाड़ के 3 बच्चों ने स्वर्ण जीतकर रचा इतिहास….

क्या कोई अनुमान लगा सकता है कि हमर छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित नारायणपुर के अबुझमाड़ के 3 बच्चों ने ‘विश्व मलखंब चैंपियनशिप’ में स्वर्ण पदक जीतकर ना सिर्फ छत्तीसगढ़ बल्कि पूरे देश को गौरवान्वित किया है। अबुझमाड़ के तीन बच्चों – (1) संतोष सोरी, (2) संताय पोटाई व (3) जयंती कचलाम ने भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर स्वर्णिम प्रदर्शन का इतिहास बनाया है। अबुझमाड़ क्षेत्र में मलखंब अकादमी मे 70 बच्चों को प्रशिक्षण देने का काम आर्म्ड फोर्स के कमांडो मनोज प्रसाद ने गोद लेकर प्रशिक्षित किया है। मनोज प्रसाद से प्रशिक्षित बच्चों में विभिन्न प्रतियोगिताओं में 200 से अधिक मैडल जीत चुके हैं। विश्व मलखंब चैंपियनशिप का आयोजन भूटान में किया गया था, जिसमें भारत, जापान, अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजिल सहित 20 देशों के 200 से अधिक खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। अबुझमाड़ के तीनों बच्चों ने विश्व मलखंब में अपने हुनर व कौशल का प्रदर्शन कर राष्ट्र का गौरव बढ़ाया है। समूचे छत्तीसगढ़ को इन तीनों खिलाड़ी बच्चों पर गर्व हो रहा है।

सातवीं की नरगिस खान ने 10वीं की परीक्षा में टॉप कर इतिहास बनाया…

बालोद शहर के स्वामी आत्मानंद स्कूल की छात्रा नरगिस खान ने ‘अग्रिम कक्षा’ में टॉप कर नया शिक्षा इतिहास बनाया है। गौरतलब है कि सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली नरगिस खान ने हमर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से 10वीं की परीक्षा में शामिल होने की अनुमति मांगी थी और नरगिस खान ने ना सिर्फ मुख्यमंत्री का भरोसा कायम रखा साथ ही महज़ 12 साल की कम उम्र में दसवीं कक्षा की परीक्षा में भी टॉप कर नया इतिहास कायम कर दिखाया है। सातवीं कक्षा में भी नरगिस ने 91 फीसदी अंक हासिल किए हैं। और इसी साल दसवीं की परीक्षा दी है। बालोद की नरगिस खान ने अपने संकल्प को पूरा किया है तो मुख्यमंत्री ने नरगिस के सिर पर अभिभावक की तरह हाथ रखा और कहा कि तुमने मुख्यमंत्री का नाम गर्व से ऊंचा कर दिया। दसवीं में नरगिस की 90.5 प्रतिशत अंक मिले हैं। रिजल्ट आने के बाद बालोद विधायक संगीता सिन्हा के साथ नरगिस खान अन्य मेधावी छात्र के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से उनके निवास पर मुलाकात ही। इच्छा व मंशा से प्रभावित होकर मुख्यमंत्री ने माध्यमिक शिक्षा मंडल से उसका टेस्ट लिया और नरगिस खान को स्वाध्याय परीक्षार्थी के रूप में विशेष अनुमति दी गई।

देश के सुप्रसिद्ध शायर बेकल उत्साही फरमाते हैं,,,

“ये माना ख़ाक़ का पुतला है आदमी बेकल
मगर यही कहीं नारी कहीं पै नूरी है”

Related posts

राजधानी रायपुर ऐसे पार्षद कामरान अंसारी जिनकी प्रशंसा हर जगह

newindianews

अटल बिहारी वाजपेयी जी एक मजबूत सुशासन के पक्षधर थे : मंत्री बृजमोहन अग्रवाल

newindianews

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से अंक-46

newindianews

Leave a Comment