New India News
मनोरंजन

अम्बिकापुर में रहने वाली डॉक्टर रेणुका मास केरकेट्टा ने मिसेज एशिया में गोल्ड कैटेगरी का खिताब हासिल देखिए ये खबर

Newindainews/Javed Akhter कहते हैं मेहनतकश इन्सान की सफलता कदम चूमती है.. अम्बिकापुर में.. यहां की रहने वाली डॉक्टर रेणुका मास केरकेट्टा ने मिसेज एशिया में गोल्ड कैटेगरी का खिताब हासिल किया है..

सरगुजा आदिवासी अंचल क्षेत्र के लिए जाना जाता है.. यहां की एक आदीवासी बेटी ने मिसेज एशिया में गोल्ड कैटेगरी का खिताब जीतकर सरगुजा का नाम अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पटल पर अंकित किया है..पेश से डॉक्टर रेणुका मास केरकेट्टा ने बताया कि ईनिग्मा के तरफ से अंतराष्ट्रीय ओपन सौन्दर्य प्रतियोगिता थाईलैंड के पटाया में आयोजित हुआ था.. जिसमें मिस और मिसेज कैटगरी में 25 लोगों के बीच प्रतियोगिता थी… ओपन सौन्दर्य प्रतियोगिता में मिसेज एशिया में गोल्ड कैटगरी का खिताब मिला है..

आदिवासी एक ऐसी जनजाति है जिसके रंग रूप की बनावट ही अलग होती है..जिस पर नाकारात्मक सोच आपकी सफलता को बाधित कर सकती है.. डॉक्टर रेणुका मास केरकेट्टा का कहना है कि आपने परशनेलिटी को निखार कर सब के सामने प्रस्तुत करना चाहिए.. अपनी तुलना किसी न करें.. बल्कि सपने देखें और सपनों को पूरा करने का प्रयास करें..

फाइनल वीओ- बड़े मुकाम को हासिल करने के बाद भी डॉक्टर रेणुका ने अपने बड़े और बुजुर्गो का सम्मान करना नहीं भूला.. सौन्दर्य प्रतियोगिता में मिसेज एशिया बनने के बाद अपनी मां का पैर छूकर आशीर्वाद लिया..यही हमारी संस्कृति की पहचान है.. अगर आपमें काबिलियत है तो अपने सपने को उड़ान दें..47 साल की उम्र में मिसेज एशिया और अब मिसेज युनिवर्स की तैयारी युवाओं के लिए मिसाल है..

 

Related posts

सलमान खान के घर अचानक पहुंची मुंबई पुलिस

newindianews

मौनी रॉय ने अपनी अदाओं से ढाया कहर, दिवाली पर आप भी करें ऐसा आई मेकअप

newindianews

मणिरत्नम की वो फ़िल्म जिसने बॉक्स ऑफ़िस पर चलाया जादू

newindianews

Leave a Comment