New India News
Other

आदिवासी क्षेत्रों में भेजे गए नये डॉक्टर : सरकार ने 2021 बैच के 66 डॉक्टरों को संविदा नियुक्ति दी

बस्तर के स्वास्थ्य केंद्रों में 46 की पोस्टिंग 

Newindianews/Raipur स्वास्थ्य विभाग ने 2021 में MBBS पासआउट 66 डॉक्टरों को संविदा नियुक्ति दी है। इन सभी डॉक्टरों काे बस्तर और सरगुजा के आदिवासी बहुल जिलों के स्वास्थ्य केंद्रों में तैनाती दी गई है। इनमें से सबसे अधिक 66 डॉक्टरों को बस्तर संभाग के जिलों में तैनात किया जा रहा है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने 66 डॉक्टरों के नाम से दो साल की संविदा नियुक्ति का आदेश जारी किया है। इन नए डॉक्टरों काे तुरंत ही ड्यूटी जॉइन करने को कहा गया है। ड्यूटी जॉइन करने के 15 दिन के भीतर ही उन्हें संबंधित जिले के मेडिकल बोर्ड से जारी प्रमाणपत्र पेश करने का भी निर्देश है। आदिवासी क्षेत्रों में तैनात इन डॉक्टरों का हर महीने 55 हजार रुपए का मानदेय दिया जाना है। सामान्य क्षेत्रों में यह मानदेय 45 हजार रुपया महीना मिलता है। नियुक्ति आदेश में कहा गया है, डॉक्टरों को उनकी नियुक्ति स्थल पर ही रहना होगा। मुख्यालय के अलावा कहीं और से आने-जाने की अनुमति नहीं होगी। ऐसा पाए जाने पर कार्रवाई हो सकती है।

दो साल की अनिवार्य सेवा के तहत नियुक्ति
यह नियुक्ति मेडिकल शिक्षा के दो साल के अनिवार्य सेवा बांड के तहत हुई है। यह सेवा अवधि उन्हें अनिवार्य रूप से पूरी करनी होगी। अगर ये डॉक्टर संबंधित केंद्र पर जॉइन नहीं देते अथवा जॉइन करने के बाद दो साल का कार्यकाल पूरा नहीं करते उनसे बांड राशि की वसूली होगी। उनका मेडिकल कौंसिल से पंजीयन भी रद्द हो सकता है।

बस्तर के इन स्वास्थ्य केंद्रों पर नियुक्ति
बुनागांव, सानाबाल (कोण्डागांव), सेंड्रा, तारलागुड़ा, मिरतुर, कोशलनार, चेरपाल, ईलमिड़ी (बीजापुर), पामेड़, ताड़ोकी, आमाबेड़ा, किसकोड़ो, कापसी, कुरेनार, परतापुर, पी.वी. 63, गोण्डाहूर (कांकेर), बारसूर, बड़े तुमनार, फरसपाल, छिंदनार, पालनार, पोटाली, सूरनार, बड़े गुड़रा, भूसारास (दंतेवाड़ा), केरलापाल, बुडदी, गादीरास, चिंतागुफा, चिन्तलनार, गोगुंडा, जगरगुंडा, गोलापल्ली, किष्टाराम, तोगपाल, गोरली, पुसपाल, कुकानार, सौतनार, इडजेपाल (सुकमा), धौणाई, कोहकामेटा, कुतूल, गारपा, हांदावाड़ा (नारायणपुर)।

सरगुजा के इन स्वास्थ्य केंद्रों पर नियुक्ति
बलंगी, डिंडो, सबाग (बलरामपुर-रामानुजगंज), कंदरई, धरसेड़ी, चुनगढ़ी (सूरजपुर), कटगोड़ी, बोडार, कुंवारपुर, माडीसरई, बंजारीडाड (कोरिया), तमता, झिक्की, बटईकेला, दोकड़ा, कुंजारा, कुस्तुरा, सोनक्यारी, आस्टा और आरा (जशपुर)।

Related posts

हम सभी मल्लिकार्जुन खड़गे की अध्यक्षता में आगे बढ़ेंगे -मुख्यमंत्री बघेल

newindianews

भाजपा कांग्रेस पार्टी से खासतौर पर किस कदर डर चुकी है : प्रभारी कुमारी सेलजा

newindianews

हमर छत्तीसगढ़ आसिफ इक़बाल की कलम से अंक 51

newindianews

Leave a Comment