New India News
नवा छत्तीसगढ़राजनीति

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…

सक्ती जिले में 14,441 नोबेल-समर्थक कांग्रेस में शामिल,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के ऐलान के साथ ही तब समीकरण बदलने लगते हैं और दलबदल से पार्टियों के हालात भी बदल जाते हैं।एक नज़ारा सक्ति-मानपुर क्षेत्र में तब सामने आया,जब एनसीपी के प्रदेशाध्यक्ष नोबेल वर्मा अपने 14441 समर्थकों के साथ कांग्रेस में शामिल ही गए हैं।गौरतलब है कि नोबेल वर्मा अविभाजित मध्यप्रदेश में राज्यमंत्री व विधायक रह चुके हैं।नोबेल वर्मा ने 14,441 सदस्य-समर्थकों की लिखित-सूची सौंप कर कांग्रेस प्रवेश कर लिया है।नोबेल वर्मा के इस कदम से भाजपा को तगड़ा झटका लगा है।

वैकल्पिक फोटोयुक्त दस्तावेज़ दिखाकर मतदान कर सकते हैं,,,,,

छत्तीसगढ़ राज्य विधानसभा चुनाव-2023 को लेकर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबा साहेब कंगाले ने मतदान के पूर्व मतदाताओं को समझाइस। जारी कर बताया है कि चुनाव आयोग ने मतदान से पहले मतदाताओं के लिए जारी निर्वाचक फोटो पहचान पत्र दिखाएंगे।यदि कोई मतदाता निर्वाचक फोटो पहचान पत्र नहीं दिखा पाता है तो भारत नितवाचन आयोग द्वारा उनके लिए 12 वैकल्पिक दस्तावेज़ भी अनुमत किए गए हैं।उन्हें अपनी पहचान स्थापित करने के लिए 12वैकल्पिक दस्तावेजों में से कोई एक प्रस्तुत करना होगा।आधार कार्ड,मनरेगा जॉब कार्ड,ड्रायविंग लायसेंस कार्ड,पैन कार्ड,भारतीय पासपोर्ट,फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज़,राज्यसरकार,लोक उपक्रम,प्रायवेट कम्पनी लिमिटेड द्वारा अपने कर्मचारियों के लिए जारी फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र,बैंकों/डाकघरों द्वारा जारी फोटोयुक्त पासबुक,स्वास्थ्य बीमा कार्ड,स्मार्ट कार्ड,सांसद,विधायक को जारी पत्रक मान्य किए जावेंगे।

आचार संहिता से अब तक 30.52 करोड़ की ज़ब्ती,,,,,


हमर छत्तीसगढ़ में राज्य विधानसभा के चुनाव बेहद करीब हैं।ऐसे में आचार संहिता प्रभावशील है और मानों कुबेर का खज़ाना निकल पड़ा है।आचार संहिता प्रवर्तन निगरानी दल को 23 अक्टूबर 2023 तक हो अब तक 30 करोड़ 52 लाख रुपए की अघोषित नगद धनराशि ज़ब्त करने में सफलता हाथ लगी है।मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक,ज़ब्त नगद धनराशि एवं वस्तुओं की ज़ब्ती हुई है,जिसमें 8 करोड़ 13 लाख 43 हज़ार कैश राशि शामिल है और 21 हज़ार 838 लीटर अवैध शराब की ज़ब्ती हुई हैं।ज़ब्त शराब की कीमत 66 लाख 43 हज़ार 444 रुपए आंकी गई है।इसके अलावा 2731 किलोअन्य नशीली वस्तुएं भी ज़ब्त की गईं है,जिनकी कीमत 2 करोड़ 16 लाख 66हज़ार 577 रुपए आंकी गई है।इसके साथ ही निगरानी दल को गहन जांच के दौरान 14 करोड़ 25 लाख 14 हज़ार रुपए कीमत के 158 किलोग्राम के कीमती आभूषण व रत्नों की ज़ब्ती तलाशी में ज़ब्ती हुई है।इन सब के अलावा अन्य सामग्रियों की कीमत 5 करोड़ 30 लाख ज़ब्ती 64 हज़ार 561 रुपए की ज़ब्ती हुई है।मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबा साहेब कंगाले ने राज्य में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने संबंधी आवश्यक दिशा-निर्देश और उनका कड़ाई से पालन करने का आदेश जारी किया है।

संयुक्त पुलिस चेकिंग में 5 लाख का अवैध पटाखा ज़ब्त,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में रायगढ़ जिले में खरसिया पुलिस,निगरानी दल व पुलिस के संयुक्त टीम ने पुलिस कप्तान सदानन्द कुमार के दिशा-निदेशन में कार्रवाई कर 5 लाख से अधिक का अवैध पटाखा ज़ब्त करने में सफलता हासिल की है।पुलिस ने मालवाहक वाहन से चेकिंग के दौरान विस्फोटक अधिनियम के तहत उक्त कार्रवाई को अंजाम दिया है।

दुर्गापुर व जैसलमेर के लिए फ्लाइट रायपुर से,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से दुर्गापुर और जैसलमेर के लिए इंडिगो एयरलाइंस कनेक्टिंग फ़्लाइट शुरू करने जा रहा है।ट्रेवल संचालक के मुताबिक,रायपुर से दिल्ली और दिल्ली से दुर्गापुर और इसी तरह फ़्लाइट रायपुर से दिल्ली और दिल्ली से जैसलमेर व वापस दिल्ली से रायपुर के लिए उड़ान भरेगी।इन दो फ्लाइटों से यात्रियों को काफी सुविधा मिलेगी।

ज़कात फाउंडेशन ने 9 साल में ही शिक्षा पर खर्च किए 3 करोड़ रुपए,,,,,


हमर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में ज़कात फाउंडेशन एक ऐसी संस्था है जो रमज़ान के पवित्र महीने में ढाई फीसदी ज़कात(दान) की रकम से महज 9 सालों में ही “शिक्षा”पर 3 करोड़ से ज़्यादा की रकम मेडिकल व इंजीनियरिंग जैसी उच्च शिक्षा पर खर्च कर चुकी है जबकि फाउंडेशन ने इस साल 50 लाख का खर्च बच्चों की शिक्षा पर खर्च करने का लक्ष्य तय किया है।ज़कात फाउंडेशन ऐसे होनहार बच्चों की मदद करता है जो आगे तो पढ़ना चाहते हैं,मगर आर्थिक समस्या की वजह से पढ़कर आगे नहीं बढ़ पाते हैं।फाउंडेशन के वार्षिक कार्यक्रम मेडिकल कालेज ऑडिटोरियम में आयोजित किया गया।इस समारोह के मुख्य अतिथि राज्यसभा सदस्य इमरान प्रतापगढ़ी रहे ।जनाब इमरान ने कहा कि ज़कात फाउंडेशन जैसी संस्था देश के हर राज्य में होनी चाहिए। आज मुस्लिम समाज की सबसे बड़ी समस्या शिक्षा(तालिम) है।शिक्षा से ही सिस्टम की सुधारा जा सकता है।राज्यसभा सांसद इमरान प्रतापगढ़ी ने ज़कात फाउंडेशन को अपनी ओर से एक लाख रुपए दान देने की घोषणा की।इस मौके पर फाउंडेशन ने जेई और एनई ईटी में सफल बच्चों का सम्मान किया गया।फाउंडेशन के कार्यक्रम में मुस्लिम पत्रकारों,मस्जिदों के मुतवल्लियों और फाउंडेशन से जुड़े स्कूलों के प्रिंसिपलों का भी सम्मान किया गया।फाउंडेशन के संस्थापक सदस्य सैय्यद अकील ने ज़कात फाउंडेशन के तालिम मिशन की जानकारी सेअवगत कराया।कार्यक्रम में मो.ताहिर,इनआमुल्लाह,अकरम सिद्दीकी,इरफान बुखारी,शोयब खान,फैसल रिज़वी,नाओमान अकरम हामिद, शेख हाशिम,शकील भाई,गुलजेब अहमद,हकीम अंसारी,मो.तनवीर आदि भी मौजूद रहे।

छत्तीसगढ़ में महासमुंद शहर की प्रख्यात शायरा सबीना खत्री”सबी”फरमाती हैं,,

“वो फ़क़त फ़ितरतों में उलझे हैं उसे पाने को
“सबी”,कहीं दरिया शराब का और दौर-ए-ख़्वाहिश है”

Related posts

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…

newindianews

नए वर्ष में मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को दी एक और सौगात, अब एक सेकेण्ड मे जारी होगी भवन अनुज्ञा

newindianews

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ी हमारी मातृ भाषा और हमारा अभिमान है

newindianews

Leave a Comment