New India News
नवा छत्तीसगढ़राजनीति

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…

छत्तीसगढ़ के 24 भाजपा नेताओं को मिली एक्स-कैटेगरी की सुरक्षा,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव में नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के 24 भाजपा नेताओं को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक्स कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराई है।इनमें जिलाध्यक्ष सर लेकर पार्षद के नाम शामिल हैं।गौरतलब है कि बीते तीन माह में स्थानीय स्तर के तीन भाजपा नेताओं की नक्सलियों ने हत्या कर दी थी।जिस पर भाजपा प्रदेश नेतृत्व ने विधानसभा चुनाव में सुरक्षा की मांग उठाई थी।इसी आधार पर नेताओं के साथ दो बंदूकधारी हर समय तैनात रहेंगे।इनमें किरणदेव, सुधीर पांडे,मनीष सुराना, रामु नेताम,कमला नाग,जसवीर नेगी,संतोष गुप्ता,कामो कुंजाम,सत्यजीत चौहान,कुलदीप ठाकुर,सोमदु कोर्राम,धीरेंद्र सिंह,श्रीनिवास मुदलियार,कमलेश मंडावी,लवकुश रायडू,फूलचंद गागड़ा,घसिराम नाग,जगार लक्ष्मैय्या,संजय लुक्कड़,संजय सोढ़ी,जसकेतु उसेंडी,देवलाल दुग्गा और भरत मटियारा को एक्स कैटेगरी की सुरक्षा प्रदान की गई है।

 

आयोग द्वारा निर्वाचन-व्यय की सीमा 40 लाख निर्धारित,,,,,,

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव दो चरणों में होने का शंखनाद हो गया है और इसके साथ ही आचार संहिता प्रभावशील हो गई है।चुनाव आयोग ने प्रत्याशियों के लिए निर्वाचन-व्यय के लिए 40 लाख रुपए की सीमा का निर्धारण किया है।आयोग के दिशा-निर्देश के मुताबिक,चुनाव से पूर्व अभ्यार्थी को एक पृथक बैंक अकाउंट खोलना होगा तथा नामांकन पत्र दाखिले के एक दिन पूर्व बैंक अकाउंट खोलकर उसकी सूचना देनी होगी,जिसमें बैंक अकाउंट का नम्बर का उल्लेख करना होगा।गौरतलब है कि नाम निर्देशन की तारीख से लेकर परिणाम की घोषणा होने की तारीख दोनों तारीखों को सम्मिलित करते हुए बैंक अकाउंट में समस्त व्यय उक्त बैंकिंग अकाउंट में स्वयं या उसके निर्वाचन एजेंट द्वारा किया जावेगा।नामांकन पत्र जमा करते समय अभ्यर्थी की अपनी चल-अचल संपत्ति की जानकारी शपथ में देनी होगी।प्रचार अवधि के दौरान अभ्यार्थी को कम से कम 3 बार स्वयं या निर्वाचन एजेंट के माध्यम से प्राधिकृत व्यक्ति द्वारा व्यय प्रेक्षक के सम्मुख निरीक्षण के लिए प्रस्तुत करना होगा।परिणाम घोषणा के 30 दिनों के भीतर अभ्यार्थी को अपने लेखे का विवरण ज़िला निर्वाचन अधिकारी के सम्मुख प्रस्तुत करना होगा।

भाजपा चुनाव कंट्रोल रूम की ज़िम्मेदारी उपासने को मिली,,,

हमर छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की रणभेरी बज गई है।ऐसे में,भाजपा प्रदेश नेतृत्व ने सर्वाधिक महत्वपूर्ण चुनाव कंट्रोल रूम की कमान वरिष्ठ नेता सच्चिदानँद उपासने को सौंपी है।उपासनेजी के सहयोगी के रूप में प्रदेश मंत्री रामु रोहरा व प्रदेश प्रशिक्षण अधिकारी अवधेश जैन होंगे। उपासनेजी ने तत्काल प्रभाव से एकात्म परिसर स्थित प्रदेश कार्यालय में अपनी टीम के साथ सम्हाल ली है।

 

सीमाओं के चेकपोस्टों पर चेकिंग में कड़ाई,बड़ा मामला पकड़ाया,,,,,

चुनावों की घोषणा व आचार संहिता प्रभावशील होते ही पूरा राज्य चुनाव आयोग की कमान पर आ गया है।इसी वजह से छत्तीसगढ़ राज्य से लगी पडौसी राज्यों की सीमाओं पर चेकपोस्टों में सख्ती से वाहनों की चेकिंग की जा रही है और इसके बेहतर नतीजे उजागर होने लगे हैं।महासमुंद ज़िले में कोमाखान पुलिस ने टेमरी चेकपोस्ट पर बिना दस्तावेजों के लाखों
के सोने-चांदी के गहनों की बरामदगी की है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने 63 लाख रुपए के 48.749 किलो चांदी के जेवरात और 912 ग्राम सोने के गहने के साथ एक लाख रुपए कैश की बरामदगी ओडिसा से आने वाले वाहनों से की गई है।मामले की जांच भी शुरू कर दी गई है।

किंग कोबरा संरक्षण प्रोजेक्ट:नोवा नेचर का चयन,,,

हमर छत्तीसगढ़ में नोवा नेचर वेलफेयर सोसायटी का चयन किया गया है।नोवा नेचर को किंग कोबरा(सर्प) के संरक्षण के पायलट प्रोजेक्ट का दायित्व मिलेगा।गौरतलब है कि किंग कोबरा को दुनिया का सबसे ज़हरीला सर्प माना गया है,जिसकी लम्बाई ही 18 फुट होती है।लगभग दो साल पहले वन विभाग ने किंग कोबरा के संरक्षण के लिए पहल की थी क्योंकि सौर नगरी कोरबा में दुर्लभ प्रजाति के विषधर किंग कोबरा के बारे में पहली बार पता चला था,खासकर उसके रहवास के केबारे में जानकारियां मिली थी।सौर नगरी कोरबा और उसके आसपास किंग कोबरा की रिपोर्ट्स के साथ उसकी केंचुली और घोसलों(रहवास) का पता चला था।इस खास किस्म के सर्प को और बारीकी से जानने और उनके रहवास के सर्वेक्षण करने के लिए निविदा आमंत्रित की गई थी।इस निविदा का उद्देश्य स्थानीय लोगों को जागरूक व सतर्क करना भी है और इसके माध्यम से इस दुर्लभ प्रजाति का संरक्षण करने के साथ ही कोरबा ज़िले में किंग कोबरा का बेहतर सर्पदंश प्रबंधन करना भी है।यह संस्था अगले एक साल में कोरबा और उसके आसपास किंग कोबरा के बारे में सम्पूर्ण महत्वपूर्ण जानकारियां सौंपेगी।इस प्रोजेक्ट के माध्यम से स्वास्थ्य,शिक्षा व अन्य विभागों के साथ मिलकर बेहतर कार्य प्रणाली को तैयार करेंगे।

 

रायगढ़ प्रेस क्लब के लिए भूमि व भवन निर्माण करने 20 लाख का अनुदान,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल की सरकार पत्रकारों के लिए हमेशा से हितकारी रही है।इसका प्रत्यक्ष प्रमाण देखने मिला जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायगढ़ प्रेस क्लब के लिए भवन तथा पत्रकारों की कालोनी निर्माण करने के भूमि आवंटन की घोषणा करते हुए निर्माण करने 20 लाख का अनुदान को मंजूरी दी।गौरतलब है कि रायगढ़ प्रेस क्लब द्वारा लंबे समय से मांग की जा रही थी,जिसे चुनाव आचार संहिता के पूर्व मुख्यमंत्री ने हरी झंडी दी।मांग पूरी होने पर रायगढ़ प्रेस क्लब के संरक्षक उदयराम थवाईत ने इसे रायगढ़ के पत्रकारों के लिए गौरवशाली क्षण निरूपित किया है।रायगढ़ प्रेस क्लब के अध्यक्ष हेमंत थवाईत एवं सचिव नवीन शर्मा ने मुख्यमंत्री,ज़िले के प्रभारी मंत्री व कलेक्टर से मिले सहयोग के लिए तहेदिल से आभार व्यक्त किया है।मालूम रहे कि शहर के डिग्री कालेज मार्ग पर भूमि आवंटन का आदेश जारी हुआ है।

 

मध्यप्रदेश में सिवनी शहर के युवा व चर्चित शायर मिन्हाज कुरैशी फरमाते हैं,,

“हर वादा बस चुनाव के मैदान तक है क्या,रिश्ता आपसे मतदान तक है क्या।सपने विकास के जो दिखाए थे आपने,साकार होना आपकी संतान तक है क्या”

Related posts

बिलासपुर: भारी बारिश से हुई फसल एवं मकान क्षति का सर्वे कर जल्द मुआवजा प्रकरण तैयार करें – कलेक्टर

newindianews

रायपुर महापौर एजाज ढेबर ने घर घर जा के लोगो से की अपील सूखा व गीला कचरा अलग कर सफाई मित्र को डस्टबिन मे दे…

newindianews

लालपुर धाम में बाबा गुरू घासीदास जयंती पर मुख्यमंत्री की घोषणा शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल को अब गौटिया स्व. श्री अंजोर दास पाटले के नाम से जाना जाएगा

newindianews

Leave a Comment