New India News
देश-विदेशराजनीति

ED के अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप, अनवर ढेबर ने कहा सुसाइड कर लूंगा

Newindianews/CG छत्तीसगढ़ के प्रतिष्ठित कारोबारी अनवर ढेबर को  मनी लांड्रिंग और अवैध शराब बेचने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है ED के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाया है । ED के अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए कोर्ट के सामने ढेबर ने कहा की ऐसा ही रहा तो वो सुसाइड कर लेंगे।

छत्तीसगढ़ में शराब घोटाले में गिरफ्तार किए गए कारोबारी अनवर ढेबर को आज स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट में उनके रिमांड को लेकर दोनो पक्ष के अधिवक्ताओं के बीच गरमागरम बहस हुई। सुनवाई के दौरान एजाज ढेबर ने ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) के अधिकारी-कर्मचारियों पर संगीन आरोप लगाए हैं। ढेबर ने कोर्ट में स्पेशल जज अजय सिंह राजपूत के सामने ईडी अधिकारी-कर्मचारियों की ओर ऊंगली दिखाकर कहा कि उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। पूछताछ की मियाद ख़त्म होने के बाद आज कोर्ट ने अनवर ढेबर की रिमांड अवधि 5 दिन बढ़ा दी है

साथ ही मुख्यमंत्री और उनके परिवार के लोगों का नाम लेने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। ढेबर ने कहा कि वे प्रताड़ना से तंग आ चुके हैं। ऐसा ही रहा तो वे खुदकुशी कर लेंगे। छत्तीसगढ़ में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच कर रही ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम ने एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है।

आरोपी का नाम नितेश पुरोहित उर्फ अप्पू है। पूर्व में गिरफ्तार किए गए अनवर ढेबर के साथ अप्पू को भी स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया है। ईडी की टीम ढेबर की रिमांड अवधि बढ़ाने की मांग करेगी। साथ ही अप्पू को भी रिमांड में देने की मांग करेगी, जिससे पूछताछ की जा सके। अनवर ढेबर के वकीलों ने कोर्ट में शिकायत करते हुए कहा कि अनवर को 24 घंटे सोने नहीं दिया जा रहा है। मारपीट की जा रही है। दबाव बनाया जा रहा है बड़े-बड़े लोगों का नाम लेने कहा जा रहा है। जानकारी के मुताबिक अनवर ढेबर ने कोर्ट के सामने अपनी खराब स्वास्थ्य का हवाला दिया। जिसके बाद उनको AIIMS में इलाज/मुलाहिजा की अनुमति मिल गई। अनवर ढेबर के वकीलों की कोर्ट में बहस पूरी हो हई है बचाव पक्ष के वकील को सुनने के बाद ED की दलील को सुना जा रहा है।

प्रवर्तन निदेशालय की रायपुर यूनिट पहले आरोपियों की चिकित्सकीय जांच आंबेडकर अस्पताल में करवा रही थी। गिरफ़्तारी के पूर्व भी यहीं सभी की जांच हुई। जेल में बीमारी के बाद भी मेकाहारा ही सूर्यकान्त को लाया गया था। लेकिन अचानक ही ED ने अब राज्य सर्कार के अंतर्गत किसी भी संस्थान पर भरोसा नहीं कर सीधे आरोपियों को एम्स में चेक करवा रही है। नितेश को भी वहीँ ले जाया गया था।

Related posts

गुरूदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर ने साहित्य के माध्यम से विश्व में भारत को पहचान दिलाई: डॉ के के ध्रुव

newindianews

किडनी स्टोन की समस्या से बचने के लिए घरेलू उपायों की मदद ले सकते हैं रामबाण से कम नहीं है गुर्दे की पथरी में ये घरेलू उपाय

newindianews

बाबा गुरू घासीदास के विचारों एवं सिद्धांतों को करें आत्मसात्: गुरू रूद्रकुमार

newindianews

Leave a Comment