New India News
देश-विदेशनवा छत्तीसगढ़

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से… अंक 61

आरक्षण संशोधन विधेयक पर राज्यपाल की दो-टूक–मार्च तक इंतज़ार करिए,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ की विधानसभा में बीते दो दिसम्बर 2022 को सर्वसम्मति से पारित आरक्षण संशोधन विधेयक पर राज्यपाल मैडम के हस्ताक्षर की इंतजारी लगातार बढ़ती ही जा रही है।हालात ये हैं कि छत्तीसगढ़ सरकार जल्द से जल्द आरक्षण विधेयक लागू करने की पक्षधर है जबकि इसके उल्ट विधेयक राजभवन की दहलीज के पार नहीं आ पा रहा है।पत्रकारों के इसी संदर्भ में एक सवाल पर राज्यपाल मैडम अनुसुइया उइके ने जवाब में इतना ही कहा कि “मार्च तक इंतज़ार करिए”।आरक्षण विधेयक पर सरकार और प्रतिपक्ष की वर्तनी तेज़ है।हालांकि राज्यपाल मैडम ने आरक्षण विधेयक पर सरकार से दस सवालों पर सफाई में जवाब तलब किया था और बताते हैं सरकार ने सवालों के जवाब राजभवन भेज दिए लेकिन अब तक हस्ताक्षर ना होने से सरकार व प्रतिपक्ष के बीच सियासी पेंच बढ़ गया है।भाजपा विधेयक पर हस्ताक्षर को राज्यपाल मैडम का विशेषाधिकार निरूपित कर रही है।भूपेश सरकार ने आरक्षण विधेयक पर अनुसूचित जाति-जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण अधिनियम में संशोधन करने का निर्णय लेकर उसे लागू करना चाहती है लेकिन आरक्षण विधेयक पर राज्यपाल मैडम के हस्ताक्षर ना होने से विधेयक लागू नहीं हो पा रहा है।

सेंट्रल पूल में सर्वाधिक धान देने वाला छत्तीसगढ़ दूसरा बड़ा राज्य बना,,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ केंद्रीय पूल में सर्वाधिक धान जमा कराने वाला दूसरा राज्य बन गया है।पिछला रिकार्ड टूटने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर उपलब्धि के लिए बधाई दी है।यह नई उपलब्धि वर्तमान खरीफ सीज़न में हासिल हुई है।भूपेश बघेल ने कहा कि बीते चार वर्षों में छत्तीसगढ़ कृषि के क्षेत्र में नित नए कीर्तिमान रच रहा है,वहीं किसानों के अथक मेहनत व प्रयासों से यह संभव हो पाया है।मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि छत्तीसगढ़ में धान-खरीदी के मामले में रिकार्ड बनाने जा रहा है,और बहुत जल्द 31 जनवरी2023 तक हम 110 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी का लक्ष्य पूरा कर लेंगे जबकि अभी तक हम 103 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी कर चुके हैं।गौरतलब है कि भारत सरकार की ताजा रिपॉर्ट के मुताबिक,छत्तीसगढ़ राज्य बीते 15 जनवरी2023 तक 92 लाख मीट्रिक टन धान का योगदान केंद्रीय पूल में दे चुका था।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि यह सब उनकी सरकार की किसान-हितैषी नीतियों के कारण सुखद बदलाव आ सका है।भूपेश बघेल के मुताबिक,बीते चार वर्षों में किसान-हितकारी योजनाओं के चलते किसानों के पंजीयन-सँख्या में बढोत्तरी हुई है।इस वर्ष 24.96लाख किसानों ने पंजीयन कराया है।इनमें 2.30 लाख नए किसान हैं।

चोरी की बाइक पर रोमांसी-अश्लीलता पर कपल की गिरफ्तारी,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में चोरी की बाइक पर रोमांस कर अश्लीलता पर उतारू एक युवा कपल को भारी पड़ गया और अब कपल पुलिस की गिरफ्त में है। इस कपल की हरकतों के पीछे इनके यार- दोस्तों का बाइक पर हुजूम भी चल रहा था।इनका वीडियो वायरल होते ही ट्रैफिक पुलिस हरकत में आई।मामले की पड़ताल करते हुए पुलिस ने तकरीबन 200 सीसीटीवी फुटेज सर्च कर कपल को गिरफ्त में लिया है।इस घटना की चर्चा पूरे शहर व जिले में बनी हुई है।

मुस्लिम कांग्रेस पार्षद कामरान अंसारी को मिला गुरुद्वारा में सम्मान,,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ की राजधानी के तेलीबांधा गुरुद्वारे में कॉंग्रेस मुस्लिम पार्षद कामरान अंसारी को सम्मानित किए जाने से सिर्फ मुस्लिम ही नहीं वार्ड के प्रत्येक समुदायों के बीच हर्ष व खुशी का माहौल है।सोशल मीडिया में पार्षद कामरान अंसारी को बधाइयां व मुबारकबाद देने का सिलसिला चल पड़ा है।पार्षद कामरान अंसारी को तेलीबांधा गुरुद्वारा सेवा समिति द्वारा शॉल व स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया।पार्षद कामरान अंसारी ने मिले सम्मान पर गुरुद्वारा समिति का तहेदिल से आभार-शुक्रियां कहते हुए सभी समुदाय के लोगों के लिए ईमानदारी से कार्य करने का संकल्प दोहराया है और कहा है कि मानव सेवा करना ही उनका मूलमंत्र है।

अजमेर के ख़्वाजा गरीबनवाज़ की दरगाह के लिए चादर व अक़ीदत के फूल भेजे उख्यमंत्री ने,,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में आपसी भाईचारा,अमन,शांति व साम्प्रदायिक सौहार्द्र के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ख़्वाजा गरीबनवाज़ मोइनुद्दीन चिश्ती साहेब के उर्स मुबारक के मौके पर चादर व अक़ीदत के फूल भिजवाए हैं। मुख्यमंत्री निवास-कार्यालय में मुहम्मद नईम व मुहम्मद फहीम ने उर्स के लिए अक़ीदत के फूल ग्रहण किए।गौरतलब है कि राजधानी से महापौर एजाज़ ढेबर की अगुवाई में 40 बंदों के दल के साथ ये अक़ीदत के फूल लेकर अजमेर की दरगाह रवाना हुए है।

भाजपा के राष्ट्रीय मुख्यालय पर डॉ रमनसिंह ने फहराया तिरंगा,,,,,

छत्तीसगढ़ के पूर्व CM डॉ रमन सिंह ने नई दिल्ली में BJP मुख्यालय में फहराया तिरंगा, Tarun Chugh भी रहे मौजूद - Dainik Savera

भाजपा के इतिहास में सर्वथा पहली बार छत्तीसगढ़ के किसी भाजपा नेता ने राष्ट्रीय मुख्यालय में गणतंत्र दिवस पर तिरंगा ध्वजारोहण किया।इस मौके को भाजपा की ओर से दी गई”जिम्मेदारी”माना गया है क्योंकि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पारिवारिक कार्य से व्यस्तता के चलते दिल्ली से बाहर थे। डॉ रमनसिंह ने ध्वजारोहण करते तिरंगे को सलामी दी।डॉ रमनसिंह को यह मौका इसलिए भी मिला क्योंकि वे अपनी राजनीतिक यात्रा में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी हैं और पूर्व केंद्रीय मंत्री व 15 वर्षों तक छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री का दायित्व भी सम्हाल चुके हैं।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस पर तंज किया और कहा कि डॉ रमनसिंह को पहली बार भाजपा में काम मिला है। उन्होंने डॉ रमनसिंह को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उन्हें इसी तरह काम मिलता रहे।

देश के मशहूर शायर व फ़िल्म गीतकार गुलज़ार साहेब फरमाते हैं,,

”कुछ शिकायत बनी रहे तो बेहतर है,

चाशनी में डूबे रिश्ते वफादार नहीं होते”

Related posts

नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया कृषि उपज मंडी आरंग के सदस्यों के पदभार ग्रहण समारोह में शामिल हुए

newindianews

भेंट-मुलाकात : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने ग्राम राजपुर में की कई घोषणाएं

newindianews

बाबा गुरू घासीदास जी ने सामाजिक कुरीतियों को किया मिटाने का काम : मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया

newindianews

Leave a Comment