नवा छत्तीसगढ़

महासमुंद : गृह एवं प्रभारी मंत्री ने की विकास कार्यों की समीक्षा

Newindianews/Raipur: गृह, जेल एवं लोक निर्माण तथा प्रभारी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू आज यहाँ ज़िला पंचायत के सभाकक्ष में विभिन्न विभागों के विकास कार्यों व काम काज की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप काम पूरी जिम्मेदारी व टीम भावना के साथ करें ताकि योजनाओं का लाभ ज़िले के हर पात्र हितग्राहियों को और बेहतर तरीक़े से मिले। जनता के हित के सभी काम सर्वोच्च प्राथमिकता और गुणवत्ता के साथ पूरी करें। इस मौक़े पर ज़िले के 37 सरकारी स्कूलों को ज़िला स्तरीय स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार दिया गया। कलेक्टर श्री निलेशकुमार क्षीरसागर ने विकास कार्यों की जानकारी दी। बैठक से पहले मंत्री श्री साहू ने हितग्राहियों को फलदार पौधों का वितरण किया और पौधा तुंहर द्वार वाहन को हरी झंडी दिखाई। बैठक में ज़िले की चारों विधानसभा क्षेत्र के विधायक सर्वश्री विनोद चंद्राकर, द्वारिकाधीश यादव, देवेंद्र बहादुर सिंह और किस्मत लाल नंद, ज़िला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ऊषा पटेल, जनपद अध्यक्ष श्री यतेन्द्र साहू और जनप्रतिनिधि सहित पुलिस अधीक्षक श्री विवेक शुक्ला, मुख्य कार्यपालन अधिकारी ज़िला पंचायत श्री एस. आलोक एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने अधिकारियों से कहा कि अपनी कार्य संस्कृति में बदलाव लाते हुए कार्य का सरलीकरण कर निबटाये। ताकि राज्य की सरकारी योजनाओं का क्रियान्वयन जमीनी स्तर पर और बेहतर तरीके से लोगों को दिखे। उन्होंने कहा कि सरकारी सभी योजनाओं का लाभ जिले के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना और उन्हें लाभान्वित करने का दायित्व हम सब का है। श्री साहू ने समीक्षा के दौरान सड़क, पुल-पुलिया, शासकीय भवन, स्कूल, आश्रम, छात्रावास, आंगनबाड़ी, राशन दुकान के निर्माण कार्य एवं शेष कार्यों को समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। वहीं लोकहित के कार्य राशनकार्ड, आयुष्मान कार्ड, आधार कार्ड, जाति प्रमाण-पत्र समय-सीमा में उपलब्ध कराने, लोक सेवा गारंटी अन्तर्गत विभिन्न प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने विभागवार बारी-बारी से कार्यों की समीक्षा की।

उन्होंने संचालित योजनाएं जल जीवन मिशन, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, नरवा, गरवा, घुरूवा एवं बाड़ी अन्तर्गत गौठानों मे मल्टीएक्टिविटी के माध्यम से आर्थिक गतिविधियों का संचालन महिला स्व-सहायता समूह को स्वावलंबी बनाने, नियमित गोबर खरीदी, वर्मी खाद के उत्पादन सहित दूरस्थ क्षेत्रों में मोबाइल कनेक्टिविटी, राशन दुकान, स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट स्कूलों के संचालन के संदर्भ में व्यापक समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस माह कभी भी मुख्यमंत्री का जिले में आगमन हो सकता है। इसलिए सभी तैयारी पूरी करें ताकि किसी को शिकायत का मौका न मिले। वे अपनी भेंट मुलाकात के दौरान आमजन के अलावा व्यवसायी, जनप्रतिनिधियों, अन्य लोगों से मिलते हैं। अपने-अपने विभाग के सभी कामकाज ठीक ढंग से कर लें।

Related posts

सरकार की एक और पहल, महिलाओं इन-हाउस ड्राइविंग प्रशिक्षण आयोजित की है

newindianews

कांग्रेस प्रदेश कार्यसमिति की बैठक, बैठक में कई अहम फैसले लिए गए.

newindianews

एआईसीसी के सचिव एवं छत्तीसगढ़ प्रभारी डॉं. चंदन यादव का 4 दिवसीय दौरा कार्यक्रम

newindianews

Leave a Comment