New India News
Other

पंजाब में 184 VIP की सिक्योरिटी में तैनात सुरक्षाकर्मी वापस, भगवंत मान सरकार का बड़ा फैसला

Newindianews/Delhi भगवंत मान सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. पंजाब में 184 के करीब पूर्व मंत्रियों और पूर्व विधायकों की सुरक्षा वापस लेने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. इन VIP की सुरक्षा में 300 से ज्यादा कर्मचारी तैनात थे. ये आदेश एडीजीपी ने सभी पुलिस प्रमुखों को भेजे हैं. गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद दूसरी बार सुरक्षा कर्मचारियों को वापस लेने की सूची जारी की गई है. इस बार जिन लोगों की सुरक्षा वापस ली गई है, उनमें दर्जनभर से ज्यादा पूर्व मंत्री और पूर्व संसद सदस्य सदस्य शामिल हैं. 20 अप्रैल का पत्र पुलिस आयुक्तों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को भेजा गया था. इन आदेशों के बाद आम आदमी पार्टी के पूर्व प्रदेश संयोजक सुच्चा सिंह छोटपुर, पूर्व सांसद राजीव शुक्ला, पूर्व सांसद संतोष चौधरी, पूर्व सांसद वरिंदर सिंह बाजवा, पूर्व कैबिनेट मंत्री सुरजीत सिंह रखड़ा, जनमेजा सिंह सेखो, बीबी जगीर कौर, मदन मोहन मित्तल, गुलजार सिंह राणिके, सोहन सिंह ठंडल, तोता सिंह की सुरक्षा वापस ले ली गई है. पूर्व मुख्यमंत्रियों और अन्य मंत्रियों के परिवार की सुरक्षा भी वापस ले ली गई है. पूर्व सीएम चन्नी की परिवार की सुरक्षा में तैनात कर्मचारियों को भी बुलाया गया वापस पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की परिवार की सुरक्षा में तैनात कर्मचारियों, पूर्व आइपीएस अधिकारियों की सुरक्षा में तैनात कर्मचारियों को भी वापस बुला लिया गया है. इसके अलावा कई पूर्व चेयरमैनों की सुरक्षा में तैनात सिक्योरिटी को भी वापस ले लिया गया है. एडीजीपी सुरक्षा की ओर से इस संबंधी आदेशों की प्रतियां स्पेशल डीजीपी स्टेट आर्म्ड पुलिस, कमांडेट जनरल पंजाब होम गार्ड एडं डायरेक्ट सिविल डिफेंस पंजाब, एडीजीपी एसपीयू, एसओजी, सीडीओ, सभी रेंज के आइजीपी को भेजी गई है.

Related posts

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ़ इक़बाल की कलम से अंक 54

newindianews

रायपुर प्रेस क्लब अध्यक्ष दामु आंबेडारे प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से की मुलाकात

newindianews

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से… अंक 59

newindianews

Leave a Comment