New India News
नवा छत्तीसगढ़

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…

कॉंग्रेस की चारों नगर निगमों में “शहर-सरकार” पदारूढ़,,,,,,

‘हमर छत्तीसगढ़’ के नगरीय चुनाव में इन चारों नगर निगमों में कॉंग्रेस की शहरी सरकार पदारूढ़ हो गई है।इस जीत को भूपेश सरकार की योजनाओं व कार्य योजनाओं पर जनता की मुहर लगी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी चारों नगर निगमों की जीत को एकतरफा करार देते हुए कहा है कि भाजपा को पराजय का सामना करना पड़ा है।भूपेश बघेल ने आगे कहा कि चारों मेयरों व सभापतियों को निगमों में साफ-सफाई,स्वास्थ्य के अलावा जनता के मौलिक दायित्वों को भी पूरा करने की दिशा में काम करना चाहिए।मुख्यमंत्री ने इस मौके पर अपने सहयोगी मंत्रियों ताम्रध्वज साहू व मोहम्मद अकबर के प्रयासों की सराहना की।यहां गौरतलब है कि रायपुर ज़िला के बीरगांव तथा दुर्ग जिले की रिसाली और चरोदा-भिलाई, नगर निगम पहली दफे अस्तित्व में आई हैं जबकि भिलाई नगर निगम में पहले भी कॉंग्रेस सत्ता में रह चुकी है।कॉंग्रेस की इन चार नगर निगमों में जीत से भूपेश सरकार की मजबूती मिली है।हर चुनावों की तरह ही कॉंग्रेस, भाजपा,इन दलों के बागियों व निर्दलियों ने जोडतोड और दांव-पेंच आज़माए गए परन्तु परिणामों में कॉंग्रेस एकतरफा जीत दर्ज कर गई।रायपुर ज़िले की राजधानी के समीप बीरगांव नगर निगम में भी राजनीति बहुत हावी रही,जिसमें वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा, पंकज शर्मा व कॉंग्रेस कार्यकर्ताओं की मुस्तैदी,चौकसी व जागरूकता के परिश्रम से नँदलाल देवांगन बने पहले मेयर व कृपाराम निषाद सभापति निर्वाचित हुए।दूसरी ओर,दुर्ग ज़िले की भिलाई नगर निगम में विधायक व पूर्व मेयर देवेन्द्र यादव की पहल पर मेयर बने नीरज पॉल जबकि गिरिवर बंटी साहू ने सभापति की जिम्मेदारी सम्हाली।इस्पात नगरी के समीप चरोदा-भिलाई नगर निगम इलाका मुख्य मंत्री भूपेश बघेल का वर्तमान निवासस्थान भी है।चरोदा-भिलाई नगर निगम के पहले मेयर पद पर निर्मल कोसरे तथा सभापति बने कृष्णा चंद्राकर ।प्रतिष्ठा की रिसाली नगर निगम की पहली मेयर श्रीमती शशि सिन्हा सुशोभित हुई जबकि सभापति बने केशव बंछोर।इस रिसाली नगर निगम की जीत व प्रतिष्ठा के लिए गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू जी-जान से जुटे रहे व उन्हें सफलता भी मिली।इस तरह चारों नगर निगमों के चुनावों में जीत और उसके उपरांत मेयर-सभापति के पदों पर कॉंग्रेस प्रत्याशियों के काबिज हो जाने से भूपेश सरकार ने बड़ा ” राजनीतिक युद्ध” जीत लिया है।

छत्तीसगढ़ को मिला नए साल का तोहफा,ई-श्रमिक सेवा का राष्ट्रीय स्वर्ण पुरस्कार,,,,,

‘हमर छत्तीसगढ़’ अनुशासित तरीके से काम करने में हमेशा अव्वल बना रहता है।साल 2022 का पहला पुरस्कार मिला है,छत्तीगढ़ शासन के श्रम विभाग को,ई-श्रमिक सेवा के लिए वर्ष 2020-21 का स्वर्ण पदक व 2 लाख रुपए की राशि मिली है।बीते दिनों यह पुरस्कार केंद्रीय कार्मिक एवं लोक शिकायत मंत्रालय के राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने हैदराबाद में आयोजित समारोह में छत्तीसगढ़ में ई-सेवाओं सहित सार्वभौमिक पँहुच के लिए 2 लाख की राशि के साथ स्वर्ण पदक भी प्रदान किया।श्रम विभाग के सचिव सह श्रम आयुक्त अमृत खलको,अपर श्रम आयुक्त श्रीमती सविता मिश्रा,उप श्रम आयुक्त डी पी तिवारी,एस एस पैकरा एवं उप संचालक टी के साहू ने श्रम कल्याण मंत्री डॉ, शिवकुमार डहरिया को उनके आवास पर पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र सौंपते हुए सम्पूर्ण जानकारी दी।श्रम मंत्री डॉ, डहरिया ने उक्त उपलब्धि के लिए श्रम विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों को बधाइयां व असीम शुभकामनाएं दी।

गौरतलब है कि प्रति वर्ष ई-गवर्नेंस पहल के कार्यान्वयन में उत्कृष्टता को बढ़ावा देने व पहचानने के लिए “डी एआरऐनपीजी” द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर यह पुरस्कार दिया जाता है।बताया गया है कि पुरस्कार का उद्देश्य ई-गवर्नेंस के क्षेत्र में उपलब्धियों को पहचानना है।स्थायी ई-गवर्नेंस पहलों को डिजाइन और कार्यान्वित करने के प्रभावी तरीको पर ज्ञान का प्रसार करना माना गया है।सफल ई-गवर्नेंस समाधानों में वृद्धिशील नवाचारों को प्रोत्साहित करना,समस्याओं को सुलझाने,जोखिम को कम करने,मुद्दों को सुलझाने और सफलता की योजना बनाने में अनुभवों को बढ़ावा देना और उनका आदान-प्रदान करना शामिल है।छत्तीसगढ़ के श्रम विभाग ने ई-श्रमिक सेवा के लिए दूसरे वर्ग के अंतर्गत अपना आवेदन दिया था।

सामाजिक समभाव-बेसहारों-गरीबों की निःस्वार्थ सेवा में सर्व-अग्रणी”आवाम-ए-हिन्द”,,,,,,,

‘हमर छत्तीसगढ़’ की समाजसेवा में जुटी संस्था”आवाम-ए-हिन्द”का सिर्फ बड़ा नाम नहीं है बल्कि संस्था अपने कामों को लेकर भी अग्रणी बनी हुई है।आवाम-ए-हिन्द संस्था ने करीब 375 दिनों से फुटपाथ में बेसहारों,लाचार,गरीब,बुजुर्ग,मासूम बच्चों को अनवरत पौष्टिक व स्वादिष्ट भरपेट भोजन(खाना) निःशुल्क उपलब्ध कराने का पुण्य(नेक) व महत्वपूर्ण काम मे संस्था के संस्थापक अध्यक्ष मोहम्मद सज्जाद खान के नेतृत्व में सभी महिला व पुरुष सदस्य साथियों के संग सक्रियता से जुटी है।संस्था यह काम बिना किसी सरकारी आर्थिक सहायता से किए जा रही है।बीते दिनों,नववर्ष के आगमन के दिन संस्था ने छत्तीसगढ़ अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष(केबिनेट मंत्री का दर्जा)भानुप्रताप सिंह के मुख्य आतिथ्य में राजधनी के सबसे बड़े अस्पताल”मेकाहारा” के दूरदराज़ व दूसरे सम्भाग,गांव व कस्बों के मरीजों को भरपूर पौष्टिक भोजन संस्था के साथ मिलकर वितरण किया व संस्था को आर्थिक सहयोग भी प्रदान किया।आवाम-ए-हिन्द के नेक कार्यों की गूंज पूरे देश मे फैल चुकी है और संस्था के कीर्तिमानों की पताका लहरा रही है।भानुप्रताप सिंह ने भोजन वितरण करते हुए अस्पताल के मरीज़ों का हाल पूछा और संस्था के समाजसेवी कार्यों की दिल खोलकर प्रशंसा की और संस्था के कार्यकलापों को जानकर सराहना व उत्साहवर्धन किया।सिर्फ इतना ही नही,आवाम-ए-हिन्द ने बीते दिनों बढ़ती ठंड व शीतलहर से बचाने करीब 400 कम्बलों व गर्म कपड़ों का वितरण कर आमजनों से सराहना भी बटोरी।आवाम-ए-हिन्द संस्था के महिला-पुरुष सदस्यों की सक्रियता व सेवाभाव देखते ही बनता है।संस्था भरपेट भोजन,कम्बल व गर्म कपड़ों के वितरण के साथ-साथ ज़रूरतमंद स्कूली बच्चों की सहायता,अपाहिज लोगों की सहायता जैसे परिणामजन्य कामों भी जागरूकता का परिचय भी देती है और समाज के सामने समाजसेवा का प्रतिबिंब बनाती है।आवाम-ए-हिन्द के संस्थापक अध्यक्ष मोहम्मद सज्जाद खान की अगुवाई में पंडित अनिल शुक्ल,सैयद ज़ाकिर हुसैन,राजेन्द्र शर्मा,मीडिया प्रभारी ज़ुबैर खान,योगेश्वर सिन्हा,अनमोल जैन,दिव्यांश शर्मा,वसीम अकरम,बलराम कश्यप,प्रीति जैन,मुकेश बम्बोडे, श्रीमती निखहत खान,रामकुमार साहू,प्रतिमा आदि समाजसेवा में कर्मठता से जुड़े व जुटे हुए हैं।

दुर्ग पुलिस ने शातिर चोर गिरोह को पकड़कर किया जबरदस्त पर्दाफाश और 77 लाख के कीमती जेवरातों की बरामदगी सहित 6 लोगों को हिरासत में लिया,,,,,,,,

नए साल का पहला पखवाड़ा दुर्ग पुलिया महकमे के लिए सफलता की बड़ी सौगात लेजर आया है।दुर्ग पुलिस ने एक शातिर चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है,जो भिलाई-दुर्ग इलाके में कचरा उठाने की आड़ में सुनसान पड़े मकानों को चोरी का निशाना बनाया करते थे,यह सिलसिला कोई 4 सालों से चल रहा था।दुर्ग ज़िल पुलिस ने अवधपुरी रिसाली में चोरी की एक वारदात की तफ्तीश के दौरान सीसीटीवी कैमरे में एक संदेही की पहचान पर इस शातिर चोर गिरोह का भंडाफोड़ करने में सफल हो पाई और इन शातिर चोरों को श्यामनगर रिसाली के मकान से धरदबोचा जहां वे किराए पर रहते धे।दुर्ग पुलिस रेंज के पुलिस महानिरीक्षक(आईजी) ओ पी पॉल ने पत्रकारों के बीच इस सनसनीखेज मामले का खुलासा किया।खास बात ये रही कि इन शातिर चोरों ने करीब 41 वारदातों को अंजाम देना माना भी है।दुर्ग ज़िला पुलिस बड़ी सफलता यह भी रही कि इन शातिर चोरों से पुलिस ने 01किलो300 ग्राम सोना,07 किलो चांदी के जेवरातों के साथ 01 लाख रुपए की नकद राशि भी जब्त की है,वहीं एक होंडा साइन मोटर सायकल व चोरी की वारदातों में इस्तेमाल किए जाने वाले ओज़ारों की भी बरामदगी की गई है।कुल मिलाकर दुर्ग ज़िला पुलिस ने 77 लाख कीमत की बरामदगी की है।पुलिस ने यह भी बताया कि शातिर चोरों में अनवर खान,द्वारका दास,सागर सेन को गिरफ्तार किया है।इनसे इसके साथ ही चोरी के माल के आपसी बंटवारे के बाद कुछ जेवरातों को सोमचंद उर्फ गुड्डू सोनी, उसके भाई राजू सोनी,जितेंद्र पवार उर्फ जीतू को बेच देते थे।पुलिस ने इन जेवरातों को खरीदने वालों को भी गिरफ्तार कर लिया है।दुर्ग ज़िला पुलिस की इस बड़ी जबरदस्त सफलतम मुहिम में निरीक्षकों भारती मरकाम व संतोष मिश्रा,उपनिरीक्षकों मनीराम नारंगे, धरम मंडावी,सहायक उपनिरीक्षक पूर्ण बहादुर,आरक्षको अनूप शर्मा,उपेंद्र यादव,पंकज कुमार,संतोष गुप्ता,शमीम खान,शहनाज़ खान,जुगनू सिंह,पन्नेलाल,सायबर सेल,थाना नेवई, चौकी पद्मनाभपुर के स्टाफ का सराहनीय योगदान रहा। दुर्ग ज़िला पुलिस की बड़ी सफलता की सर्वत्र प्रशंसा भी हो रही है।

ख़बर बनाने वाले भिलाई के बड़े भाई “शिव”ख़ुद बने ख़बरों के हीरो,,,,

इस्पात नगरी भिलाई के वरिष्ठतम पत्रकार शिव श्रीवास्तव,अब वास्तव में खबरों के मध्य हीरो बन गए हैं।शिव श्रीवास्तव को भारतीय विमानपत्तनम नई दिल्ली ने रायपुर राजधानी के स्वामी विवेकानन्द विमानतल की सलाहकार समिति का सदस्य मनोनीत किया हैं।बड़े भाई शिव श्रीवास्तव को उत्तर बस्तर कांकेर के सांसद मोहन मंडावी के विशेष अनुरोध पर केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने स्वामी विवेकानन्द रायपुर के विमानतल का सलाहकार सदस्य मनोनीत किया है।वर्ष 2022 के प्रारंभ में बड़े भाई वरिष्ठ पत्रकार शिव श्रीवास्तव को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिलने पर समूचे पत्रकार जगत में ख़ुशी व उत्साह देखा जा रहा है।

विधानसभा का बजट-सत्र अब मार्च महीने में सम्भव,,,,,,,

‘हमर छत्तीसगढ़’ में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए फरवरी में होने वाले बजट-सत्र को आगे बढ़ाए जाने की ख़बर है।छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ, चरणदास महंत के अनुसार,कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बजट-सत्र फरवरी माह से आगे जाकर मार्च महीने में हो पाने की संभावना है।डॉ, महंत ने इस बाबत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और संसदीय कार्य मंत्री से चर्चा की है।इसलिए पूरी संभावना है कि बजट-सत्र मार्च महीने में ही शुरू हो सकेगा।

मशहूर शायर ‘निदा फ़ाज़ली’ ने फरमाया है,,,,

“मुमकिन है सफ़र हो आसां, अब साथ भी चलकर देखें

कुछ तुम भी बदल कर देखो,कुछ हम भी बदल कर देखें”,,,

Related posts

गैस के दाम में 50 रु वृद्धि के विरोध में युवक कांग्रेस ने किया जयस्तंभ चौक में मोदी सरकार का पुतला दहन !!

newindianews

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…

newindianews

मोहन भागवत कल आएंगे राजधानी रायपुर 10 से 12 सितंबर, अखिल भारतीय समन्वयक समिति की बैठक

newindianews

Leave a Comment