New India News
नवा छत्तीसगढ़राजनीति

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…अंक 85

शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना से 51 लाख लाभान्वित,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना की पहल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की है,जिससे 51 लाख 71 हज़ार 286 लोगों का इलाज मोबाइल मेडिकल यूनिट के चिकित्सा दल ने स्लम बस्तियों के घरों में जाकर लोगों का इलाज कर दवाइयां दी हैं।गौरतलब है कि 125 मोबाइल मेडिकल युनिट में चिकित्सक,पैरामेडिकल टीम,मेडिकल उपकरण व दवाओं से पूरी तरह लैस होता है।इस योजना के माध्यम से अब तक 13 लाख 82 हज़ार 456 पैथालॉजी टेस्ट किए जा चुके हैं।योजना के माध्यम से 44 लाख 42 हज़ार 290 लोगों को निःशुल्क दवाईयां दी जा चुकी हैं।खास बात यह भी रही कि 3 लाख 88 हज़्ज़ार 247 ऐसे लोग भी शामिल हैं जो मेहनत-मजदूरी करते हैं।इन श्रमिकों ने भी निःशुल्क इलाज जांच सुविधा का लाभ उठाया है।नगरीय निकाय विभाग के माध्यम से मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना की शुरुआत वर्ष 2020 से की गई है।शहरी नगरीय विकास मंत्री डॉ शिव डहरिया ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि ज़रूरतमंद लोगों का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण के इलाज व दवाई की व्यवस्था की जावे।

ऊर्जा नगरी कोरबा में 45 साल पुरानी 125 मीटर ऊंची चिमनी धराशाई,,,,

हमर छत्तीसगढ़ की ऊर्जा नगरी कोरबा में अविभाजित मध्यप्रदेश की 45 साल पहले स्थापित विद्युत मंडल की बंद पड़ी 125 मीटर ऊंची चिमनी को चंद सेकेंड में धराशाई किया गया है।गौरतलब है कि विद्युत मंडल कम्पनी की इस बंद पड़ी चिमनी पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल(एनजीटी)ने पूर्व संयंत्र से काफी प्रदूषण होने पर ऐतराज जताया था।इस संयंत्र को चालू रखने दोनों ईकाइयों का नवीनीकरण वर्ष 2005 में 300 करोड़ की राशि खर्च कर किया गया और पूरी क्षमता से विद्युत उत्पादन होने लगा। बाद में प्रदूषण के नियम कड़े होने पर इकाईयों का परिचालन करने में दिक्कत आने लगी और आखिरकार इन दोनों इकाईयों को 31 दिसम्बर 2020 की रात 12 बजे बंद कर दिया गया। इसके साथ ही इस इकाई का कबाड़ बेच दिया गया।कम्पनी ने 120 मेगावाट की इकाई क
की 125 मीटर ऊंची चिमनी को धराशाई कर दिया गया।

आधा दर्जन राइस मिलर आयकर छापे के घेरे में,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में स्टील व पॉवर कारोबारियों के बाद अब आधा दर्जन राईस मिलरों पर आयकर का छापा पड़ा है।जिसमें बिलासपुर राईस मिल एसोसिएशन के अध्यक्ष बलबीर सिंह सलूजा भी शामिल हैं,जिनकी 2 राईस मिलें हैं।इसके साथ ही धमतरी,दुर्ग,महासमुंद,खरोरा की राईस मिलों में भी आयकर जांच चल रही है।आयकर टीम ने मार्कफेड व नागरिक आपूर्ति के एम डी मनोज सोनी के यहां भी दबिश दी गई है।

अंतागढ़ ब्लाक में सोलर लाईट घोटाला,जनपद सीईओ गिरफ्तार,,,,,

अंतागढ़ ब्लाक में सोलर लाइट लगाने के नाम पर 14 लाख का घोटाला,,जनपद के तत्कालीन सीईओ पी आर साहू गिरफ्तार।इसी मामले में आरोपी ठेकेदार व बिजली विभाग के इंजीनियर की तलाश की जा रही है।गौरतलब है कि पूर्व सांसद विक्रम उसेंडी के गांव में सोलर स्ट्रीट लाईट लगाने के नाम पर इन तीनों आरोपियों ने 14 लाख रुपए का बंदरबांट किया।टाडोकी थाना क्षेत्र में जब मामले का खुलासा हुआ,तब पुलिस ने धारा420 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की।पुलिस के मुताबिक,ज़िला खनिज न्यास निधि से वर्ष 2021-22 में 30 सोलर स्ट्रीट लाईट लगाने 14 लाख 40 हज़ार की राशि मंजूर की गई थी।गांव में स्ट्रीट लाईट लगाने का काम हुआ ही नहीं और भुगतान भी कर दिया गया।मामले का खुलासा होने पर कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला ने जांच कमेटी बनाकर जांच कराई और समिति ने जांच में शिकायत सही पाई।पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश की,तब जानकारी मिली कि जनपद सीईओ बीजापुर में पदस्थ हैं,पुलिस ने उन्हें बीजापुर से गिरफ्तार किया।अन्य की तलाश जारी है।मामले में राजनीतिक सनसनी भी रह है।

पटवारियों को हर माह मिलेगा 5 सौ रुपए संसाधन भत्ता,,,

हमर छत्तीसगढ़ में राजा टोडरमल के बाद पटवारियों के हित संवर्धन में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अग्रणी हैं,जिन्होंने अब पटवारियों की हर महीने 5 सौ रुपए संसाधन भत्ता दिए जाने की घोषणा की है।इसके साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के लगभग 5 लाख शासकीय सेवकों को 4 प्रतिशत अतिरिक्त मंहगाई भत्ता दिए जाने की घोषणा की है।संविदा पर कार्यरत 37 हज़ार कर्मचारियों को भी उनके वेतन में 27 प्रतिशत की वृद्धि की गई।उन्होंने स्कूल शिक्षा में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को 2 हज़ार रुपए का अतिरिक्त लाभ देने की भी घोषणा शामिल है।

फिंगरप्रिंट ब्रश पर मृणाल विदानी को भारत सरकार से मिला कॉपी रॉइट अधिकार,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में महासमुंद शहर में प्रेस क्लब की वरिष्ठ पत्रकार उत्तरा विदानी की बिटिया मृणाल विदानी को भारत सरकार से फिंगर प्रिंट ब्रश के लिए कॉपी रॉइट अधिकार मिला है।मृणाल इन दिनों जयपुर(राजस्थान) में विवेकानन्द ग्लोबल यूनिवर्सिटी में फॉरेंसिक साइंस में अध्ययनरत हैं।मृणाल ने कोसें के फल से रेशे निकालकर गॉर्डन की पतली लकड़ियों से ब्रश बनाया।इसके बाद भारत सरकार से मृणाल को फिंगर प्रिंट के लिए कॉपीरॉइट अधिकार दिया है।

देश के चर्चित शायर द्वाकर राही फरमाते हैं,,

“आई तो हैं हज़ार ज़माने की गर्दिशें,,,
हम हैं के फिर भी ख़ुद को संभाले तो हुए हैं”

Related posts

खुद को सुधारिये और समय पर दफ्तर आइये, लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी : तारन प्रकाश सिन्हा

newindianews

दवा वितरण कक्ष का निरीक्षण कर दवाइयों की उपलब्धता, भंडारण और एक्सपायरी डेट की जानकारी ली

newindianews

महापौर एजाज ढेबर ने किया रायपुर के मशहूर रेस्टोरेन्ट “ख्वाहिश” का उद्धघाटन अंतरराज्य बस स्टैंड में मिलेगा स्वदिष्ट भोजन

newindianews

Leave a Comment