New India News
Otherनवा छत्तीसगढ़

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ़ इकबाल की कलम से …(47)

छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं के 1866 करोड़ के भुगतान से बाज़ारों की रौनक बढ़ेगी-भूपेश

हमर छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने अपनी तीन महत्वाकांक्षी योजनाओं – राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय योजना और राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के हितग्राहियों को 1866 करोड़ 39 लाख की राशि का भुगतान सीधे उनके खातों में किया है तथा यह भुगतान ऑनलाइन किया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास कार्यालय में वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि दिवाली का त्यौहार नज़दीक है और आप सभी के खातों में राशि आने से त्यौहार और अच्छे से मना सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कर्मचारियों का भी डी.ए. बढ़ाकर 33 प्रतिशत कर दिया है, जिससे कर्मचारी वर्ग में भी ख़ुशी का माहौल है। त्यौहार के पहले सभी वर्गों के पास राशि आने से बाज़ारों में भी रौनक बढ़ेगी। मुख्यमंत्री के साथ बैठक में कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, वन मंत्री मो.अकबर, शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम, आबकारी मंत्री कवासी लखमा, डॉ. शिव कुमार डहरिया, अमरजीत भगत, जयसिंह अग्रवाल, श्रीमती अनिल भेंडिया, रुद्रकुमार, उमेश पटेल, मुख्यमंत्री के कृषि सलाहकार प्रदीप शर्मा, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह, मुख्यमंत्री के सचिव सिद्धार्थ कोमलसिंह परदेशी, डॉ. एस भारतीदासन, अंकित प्रसाद, सुश्री सौम्या चौरसिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा किसानों के खातों तथा कर्मचारियों को 33 प्रतिशत महंगाई भत्ता जारी करने की पहल को दिवाली के पहले बड़ा उपहार माना जा रहा है, जिससे बाज़ारों की रौनक भी बढ़ेगी।

देशभर में फिर नंबर वन मुख्यमंत्री बने भूपेश बघेल…

छत्तीसगढ़ के लोकप्रिय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पूरे देश भर में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले मुख्यमंत्री माने गए हैं। आई.ए.एन.एस – सी-वोटर ट्रैकर ने अपने सर्वेक्षण में माना है कि हमर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पूरे भारत में सभी स्तरों पर सबसे काम विरोधी लहर का सामना करना पड़ा है, उन्हें नंबर वन मुख्यमंत्री माना गया है जबकि दूसरे नंबर पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रहे जबकि आगामी 12 महीनों में चुनाव वाले राज्यों में हिमाचल, कर्नाटक, तेलंगाना और राजस्थान समेत अधिकतर अन्य मुख्यमंत्रियों को कम स्थान मिला है। सर्वे के मुताबिक छत्तीसगढ़ में केवल 6 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के खिलाफ विचार व्यक्त किए। इसके विपरीत ट्रैकर के मुताबिक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पास सभी मुख्यमंत्रियों की तुलना में सर्वाधिक समर्थन हासिल है। वर्ष 2021 की इसी अवधि में किए गए ट्रैकर में भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले मुख्यमंत्रियों में से एक थे, जिन्हे मतदाताओं के गुस्से का सबसे कम सामना करना पड़ा। भूपेश बघेल के बाद अरविंद केजरीवाल और तीसरे नंबर पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान हैं। असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा चौथे व तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पांचवे स्थान पर हैं। सूची में सबसे नीचे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत हैं जिनसे 35.4 प्रतिशत उत्तरदाता नाराज़ हैं। बिहार के नीतीश कुमार से 32 प्रतिशत उत्तरदाता नाखुश हैं। पूरे भारत में आई.ए.एन.एस. सी-वोटर ट्रैकर में उत्तरदाताओं के लिए बेरोजगारी का मुद्दा सबसे ऊपर रहा है।

साल में एक परिवार को सिर्फ 15 सिलेंडर ही मिलेंगे…

रसोई गैस सिलेंडर को लेकर केन्द्र सरकार ने एक नया आदेश जारी किया है, जिसके मुताबिक एक परिवार को एक साल में सिर्फ 15 रसोई गैस (घरेलु) सिलेंडरों पर निर्भर रहना पड़ेगा। गौरतलब है कि यह नया आदेश 1 अक्टूबर से लागू है किन्तु गैस सिलेंडरों की गिनती 1 अप्रैल 2022 से की जाएगी, जिसकी गिनती शुरू हो गई है। इसके लिए सभी गैस एजेंसियों के कम्प्यूटरों को अपडेट कर दिया है, इसके आधार पर 16 गैस सिलेंडर की बुकिंग एजेंसी में नहीं होगी। इस कड़े नियम में प्रावधान किया गया है कि यदि बड़े परिवारजनों को वास्तविक रूप से 15 से ज्यादा गैस सिलेंडर की ज़रूरत पड़ेगी तो यह ज़रूरत क्यों है एजेंसी उनके आवेदन की जानकारी संबंधित एलपीजी कंपनी को देगी, उसका ऑनलाइन ट्रैक वास्तविक खपत, परिवार में सदस्यों की संख्या और जरुरत की जांच के बाद ही फैसला लिया जायगा कि आवेदक को अतिरिक्त गैस सिलेंडर दिया जाए या नहीं। एलपीजी कंपनियों के मुताबिक, अब महीने में 2 से ज्यादा गैस सिलेंडर की बुकिंग व डिलीवरी नहीं होगी। एलपीजी की तीनों कंपनियों ने उक्ताशय के आदेश जारी कर दिए हैं। इसके लिए सॉफ्टवेयर भी अपडेट हो गया है। अर्थात सिलेंडरों की गिनती 1 अप्रैल 2022 से ही की जाएगी।

कोरबा के घने जंगलों में 15 जुआरियों से नगद सहित 35 लाख का माल ज़ब्त,,,,,

कोरबा जिले में पाली थाना क्षेत्र के चैतुरगढ़ के घने पहाड़ी जंगल में जुआ खेलते 15 आदतन जुआरियों की गिरफ्तारी।इन जुआरियों ने मोबाइल नेटवर्क विहीन इलाके को बड़ी चालाकी से चुना था ताकि किसी को खबर ना मिले लेकिन पुलिस के मुखबिर नेटवर्क के चुंगल में फंसने से बच नहीं पाये। इन 15 जुआरियों से पुलिस ने नगद सहित वाहनों की जब्ती से कुल 35 लाख का माल बरामद किया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक जुआरियों से 3 लाख 10 हजार रु नगद तो जब्त किया ही गया है जबकि इनसे 20 मोटर सायकिल, 3 कार जब्त किया है। कोरबा पुलिस कप्तान यू.उदय किरण के द्वारा अतिरिक्त एसपी अभिषेक वर्मा के नेतृत्व, पुलिस एसडीओ (कटघोरा) ईश्वर त्रिवेदी के पर्यवेक्षण में गठित विशेष टीम ने जुआ छापेमारी को अंजाम दिया। पुलिस द्वारा लगातार दो दिनों से पतासाजी की जा रही थी, जिसमें पहले दिन सफलता नहीं मिली थी लेकिन छापे की रणनीति बदलने से जुआरियों का पीछा करते हुए घेराबंदी सफल हो पाई। कुल 35 लाख जब्ती के बाद जुआ पर 13 जुआ एक्ट के तहत कार्यवाही की गई है। जुआरियों ने चैतुरगढ़ के घने जंगल को चुना था, क्योंकि वह इलाका मोबाइल नेटवर्क विहीन भी था लेकिन जुआरियों की चाल नाकाम ही रही और सभी जुआरी गिरफ्त में आ गये। जिला पुलिस की कार्यवाही से कोरबा में जुआरियों में दहशत है जबकि आम जनता के बीच काफी ख़ुशी है।

जस्टिस गौतम चौरड़िया बने राज्य उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष..

हमर छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने आदेश जारी कर जस्टिस गौतम चौरड़ियाको राज्य उपभोक्ता फोरम (छत्तीसगढ़ राज्य उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग) का अध्यक्ष नियुक्त किया है। जस्टिस गौतम चौरड़िया छत्तीसगढ़ राज्य हाई कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस हैं। जस्टिस गौतम चौरड़िया ने अपने न्यायिक जीवन की शुरुआत अधिवक्ता के रूप में की थी। उसके बाद वे 23 साल तक न्यायिक सेवा में रहे और इसी वर्ष जुलाई में रिटायर हुए। चार साल पहले ही वे हाईकोर्ट के जज बने थे और इससे पहले वे रजिस्ट्रार जनरल भी रहे।

जनसंपर्क विभाग की नई द्विभाषी वेबसाइट का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किया लोकार्पण…

हमर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास – कार्यालय में जनसंपर्क विभाग की द्विभाषी (हिंदी – अंग्रेजी) में नई वेबसाइट (https://dprcg.gov.in/) में समाचारों के साथ ही विभागीय व छत्तीसगढ़ से जुड़ी सभी जानकारियां हिंदी और अंग्रेजी में उपलब्ध होगी। दोनों भाषाओं में जानकारी उपलब्ध होने से छत्तीसगढ़ सरकार की योजनाओं की पहुंच देश व दुनिया में आसानी से होगी। साथ ही यह वेबसाइट राज्य और राष्ट्रीय स्तर के अंग्रेजी माध्यम के समाचार पत्रों के लिए सुविधा – जनक होगी। इन समाचार पत्रों को छत्तीसगढ़ सरकार से संबंधित समाचार हिंदी की साथ-साथ अब अंग्रेजी में भी उपलब्ध होगी। इस वेबसाइट में जिले के लिए अलग से सेगमेंट बनाया गया है, जिससे जिला जनसंपर्क कार्यालय अपने जिले से संबंधित समाचार खुद अपलोड कर सकेंगे।इस अवसर पर संचालक जनसंपर्क सौमिल रंजन चौबे सहित जनसंपर्क विभाग के अन्य अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

 

मध्यप्रदेश के सिवनी ज़िले के चर्चित युवा शायर मिन्हाज कुरैशी फरमाते हैं,,,

“इल्म ज़हनों के अंधेरों को मिटा देता है,,,

और इन्सान को इन्सान बना देता है”,,,

Related posts

ईश्वर ने दिव्यांगों को अपार प्रतिभा दिया है-मंत्री श्रीमती भेंडिया

newindianews

कांग्रेस प्रदेश कार्यसमिति की बैठक, बैठक में कई अहम फैसले लिए गए.

newindianews

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…. अंक 66

newindianews

Leave a Comment