New India News
देश-विदेशराजनीति

मुलायम सिंह यादव को कल सैफई में दी जाएगी अंतिम विदाई, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी होंगे शामिल देखिए पूरा शेड्यूल

Newindianews/Delhi  मुलायम सिंह यादव दो साल से बीमार चल रहे थे. पिछले साल उन्हें कोरोना भी हुआ था. 26 सितंबर 2022 को आखिरी बार चेकअप के लिए मुलायम सिंह यादव मेदांता गुरुग्राम पहुंचे थे. तब से वे आखिर तक वहीं भर्ती थे.

समाजवादी पार्टी के संरक्षक  और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव  का सोमवार को निधन हो गया. 82 साल के मुलायम का गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल में 50 दिन से इलाज चल रहा था. यूरिन और बीपी की प्रॉब्लम बढ़ने के बाद 2 अक्टूबर को उन्हें ICU में शिफ्ट किया गया था. इसके बाद उनकी हालत बिगड़ती गई. मुलायम के निधन पर उत्तर प्रदेश में 3 दिन और बिहार में एक दिन के राजकीय शोक का ऐलान किया गया है. अंतिम संस्कार के लिए मुलायम की पार्थिव देह सैफई ले जाई जा रही है. शाम 5 बजे तक पहुंच जाएगी. मंगलवार दोपहर 3 बजे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार (Mulayam Singh Yadav Death Funeral) किया जाएगा. इस बीच सीएम योगी आज शाम सैफई पहुंचेंगे और मुलायम सिंह यादव को श्रद्धांजलि देंगे.

अंतिम संस्कार में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को श्रद्धांजलि देने के लिए मेदांता भी पहुंचे थे. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और राजद चीफ लालू यादव समेत सभी बड़े नेताओं ने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के रक्षा मंत्री रह चुके मुलायम को श्रद्धांजलि दी है.

अंतिम संस्कार का पूरा शेड्यूल
सोमवार-
शाम 6:00 बजे: मुलायम सिंह के पार्थिव शरीर को उनके सफाई स्थित आवास पर अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा.
शाम 6:30 बजे: सीएम योगी आदित्यनाथ सफाई में मुलायम सिंह को अंतिम श्रद्धांजलि देंगे.
मंगलवार-
दोपहर 2:00 बजे: मुलायम सिंह के पार्थिव शरीर को श्मशान गृह सफाई ले जाया जाएगा.
दोपहर 3:00 बजे: अंतिम संस्कार की प्रक्रिया शुरू होगी.
(मुलायम सिंह यादव को राजकीय रूप से अंतिम विदाई दी जाएगी.)

(अपेक्षित गणमान्य व्यक्ति)
-सीएम योगी आज श्रद्धांजलि देंगे.
-रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कल सैफई पहुंचेंगे.
-बसपा के सतीश मिश्रा और राजद के तेजस्वी यादव भी कल पहुंचेंगे.
-रालोद के जयंत चौधरी, डिप्टी सीएम केशव मौर्य, बृजेश पाठक भी मंगलवार को श्रद्धांजलि देंगे.

मुलायम पिछले दो साल से चल रहे थे बीमार
मुलायम सिंह यादव दो साल से बीमार चल रहे थे. परेशानी अधिक बढ़ने पर उन्हें अक्सर हॉस्पिटल में भर्ती कराया जाता रहा. पिछले साल उन्हें कोरोना भी हुआ था. 26 सितंबर 2022 को आखिरी बार चेकअप के लिए मुलायम सिंह यादव मेदांता गुरुग्राम पहुंचे थे. तब से वे आखिर तक वहीं भर्ती थे.

जुलाई में दूसरी पत्नी का भी हुआ निधन
गुरुग्राम के जिस मेदांता हॉस्पिटल में मुलायम सिंह यादव का निधन हुआ है, उसी अस्पताल में दूसरी पत्नी साधना गुप्ता ने भी आखिरी सांस ली थी. 10 जुलाई को साधना सिंह का अंतिम संस्कार सैफई में ही हुआ था. साधना के बेटे प्रतीक यादव ‘बॉडी बिल्डर’ हैं. वह व्यवसायी हैं और एक जिम भी चलाते हैं. प्रतीक की पत्नी अपर्णा बिष्ट यादव ने 2017 में लखनऊ कैंट से सपा के टिकट पर विधान सभा चुनाव लड़ा था और हार गई थीं. साल 2022 के विधानसभा चुनाव के दौरान उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ले ली थी.

Related posts

कवर्धा : अंग्रेजी माध्यम स्कूल से हाईटेक लैब और स्मार्ट क्लास से विद्यार्थियों को मिल रहा गुणवत्तापूर्ण शिक्षा

newindianews

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…

newindianews

शराब वाले मामले में मंत्री अनिला भेड़िया ने कहा मेरी को बातों को तोड़-मोड़ कर प्रस्तुत किया जा रहा है

newindianews

Leave a Comment