New India News
Otherनवा छत्तीसगढ़

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…(41) वें अंक

गौधन न्याय योजना के हितग्राहियों को अब तक 340 करोड़ 35 लाख रुपए की राशि का अंतरण,,,,,


हमर छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार द्वारा राज्य में लागू गौधन न्याय योजना के हितग्राहियों के बैंक खातों में अब तक  340 करोड़ 35 लाख रुपए की धनराशि का अंतरण किया जा चुका है।
गौरतलब है कि गौधन न्याय योजना देश-दुनियां की एकमात्र ऐसी योजना है,जिसके माध्यम से 2 रुपए प्रतिकिलो की दर से गोबर और 4 रुपए प्रति लीटर की दर से गौमूत्र की खरीदी की जा रही है।बीते दिनों,मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने निवास-कार्यालय में वर्चुअल कार्यक्रम में गौधन न्याय योजना के हितग्राहियों के बैंक खातों  में 5 करोड़ 9 लाख रुपए की राशि जा अंतरण किया।इस अवसर पर कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे व शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम सहित आला अफसर  भी उपस्थित रहे।मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सबों के समंवित प्रयासों से गौधन न्याय योजना का दायरा का निरन्तर बढ़ता जा रहा है।जिसका लाभ खेती-किसानी के साथ सभी लोगों को मिल रहा है।यह योजना मिशन के रुप में संचालित की जा रही है।मुख्यमंत्री ने बताया कि बीते एक साल में लाभान्वित पशुपालकों की संख्या 1 लाख77 हज़ार 437से बढ़कर 2लाख52 हज़ार685 हो गई है।3हज़ार89 गौठान स्वावलंबी हो गए हैं,जो 18 करोड़ 24 लाख से गोबर की खरीदी कर चुके हैं। इस कार्यक्रम के माध्यम से 5 करोड 89 लाख का भुगतान किया गया है।इस राशि में से
गोबर विक्रेताओं को 2करोड69 लाख रुपए, स्व-सहायता समूहों को 93 लाख रुपए तथा गौठान समितियों को 1करोड़ 48 लाख रुपए का भुगतान प्राप्त हो  चुका है।इस तरह अब तक 340 करोड35 लाख रुपए का भुगतान योजना के तहत किया जा चुका है।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने यह भी बताया कि गौठानों में बीते एक माह में 21 हज़ार 492 लीटर गौमूत्र की खरीदी की जा चुकी है।जिसमें से महिलाओं द्वारा 5 हज़ार160 लीटर गौमूत्र कीटनाशक ब्रह्मास्त्र तथा 6 हज़ार 582 लीटर जीवामृत तैयार किया गया है। जिसे किसानों द्वारा खेती में उपयोग के लिए खरीदा भी जा रहा है।बताया गया है अब तक ढाई लाख रुपए का ब्रह्मास्त्र व जीवामृत खरीदा जा चुका है।इस योजना में अब तक 160 करोड़ 94 लाख रूपये में गौबर की खरीदी की जा चुकी है।

रायगढ़ के जिंदल में फ़िल्म की शूटिंग करेंगे सुपरस्टार अक्षय कुमार,,,,,,


छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार में फ़िल्म पॉलिसी के सलाहकार गौरव द्विवेदी ने बताया है कि  हमर छत्तीसगढ़ के मनोरम लोकेशन्स को बॉलीवुड के रुपहले पर्दे पर फिल्माए जाने की तैयारी की जा रही है।गौरव द्विवेदी ने बताया कि बड़े बजट की दक्षिणी फ़िल्म “सोरारइ पोटरू”की रीमेक बनेगी।दक्षिण की यह फ़िल्म राष्ट्रीय पुरस्कार भी जीत चुकी है।फ़िल्म में हीरो बॉलीवुड के सुपरस्टार खिलाड़ी अक्षयकुमार व हीरोइन राधिका मदान होंगी।अक्षय कुमार फ़िल्म की शूटिंग के लिए 2 अक्टूबर को रायपुर आएंगे और रायगढ ज़िले में एक हफ्ते तक रहेंगे।फ़िल्म की डायरेक्टर सुधा कोंगारा भी पूरी टीम के संग रायगढ़ में रहेंगी।गौरतलब है कि डायरेक्टर सुधा कोंगारा ने ही दक्षिण में फ़िल्म बनाई थी,अब हिंदी में अक्षय को लेकर रीमेक बना रहीं है।बताया जा रहा है कि फ़िल्म की शूटिंग जिंदल स्टील एंड पॉवर कम्पनी के प्लांट व कालोनी में होगी।फ़िल्म की रेकी के लिए टीम पहले ही रायगढ़ का दौरा कर चुकी है।फ़िल्म सोरारई पोटरू एक तमिल शब्द है,जिसका हिंदी में अर्थ –वीर की जय जयकार  है।इसकी कहानी एयर डेक्कन के संस्थापक कैप्टन गोपीनाथ के प्रेरक जीवन से जुड़ी मानी जा रही है।हमर छत्तीसगढ़ में फ़िल्म की शूटिंग व हीरो अक्षयकुमार की टीम का बेसब्री से इंतज़ार रहेगा।

स्वदेशी जंगी युद्धपोत”विक्रांत”से जुड़ा भिलाई का विशेष लोहा,,,,,,,


हमर महान देश भारत के जिस स्वदेशी विमान वाहक जंगी जहाज आइएएनएस “विक्रांत” का लोकार्पण नौसेना को प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर मोदी ने किया,उस जंगी जहाज में हमर छत्तीसगढ़ के भिलाई इस्पात संयंत्र का डीएमआरग्रेड का विशेष लोहा भी लगा है।खास बात यह भी है कि इस ग्रेड का लोहा ‘सेल’ के उपक्रमों  बीएसपी के साथ बोकारो व राऊरकेला की इकाइयों ने संयुक्त रूप से लगाया है।गौरतलब है कि सेल ने जंगी जहाज के लिए कुल 30 हज़ार टन लौह की आपूर्ति की है,जिसमें से 17 हज़ार टन विशेष ग्रेड का लौह भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा प्रदान किया गया है।भिलाई के योगदान को रेखांकित करने भिलाई इस्पात संयंत्र के ईडी सभागार में संयंत्र के निदेशक प्रभारी अनिबार्न दासगुप्ता तथा कार्यपालक निदेशक(वर्क्स)अंजनी कुमार विशेष रूप से उपस्थित रहे।इनके साथ ही सभी निर्माण विभागों के 05 मुख्य महाप्रबंधकों क्रमशः एस के कर,एस के घोषाल,आर के बिसारे, तापस दासगुप्ता तथा पी के सरकार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी व कार्मिकगण की उपस्थिति रही।निदेशक प्रभारी अनिर्बान दासगुप्ता ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि यह हमारे लिए गर्व की बात है कि देश के पहले स्वदेशी जंगी जहाज के निर्माण के लिए भिलाई ने विशेष लौह की आपूर्ति की है।यह भारत की आत्मनिर्भरता का सर्वोच्च प्रमाण है।क्वालिटी स्टील बनाना हमारे बीएसपी की रग-रग में बसा हुआ है और यही हमारे कर्मवीरों की ताकत है।इस उपलब्धि के लिए हमारे कर्मवीर बधाई के पात्र हैं।इस अवसर पर अंजनी कुमार ने भिलाई बिरादरी को बेहतर भविष्य के लिए शुभकामनाएं व्यक्त की है।

छत्तीसगढ़ के 3 पुलिस अफसरों को फिक्की ने स्मार्ट पुलिसिंग अवार्ड-2021 से किया सम्मानित,,,,,,


हमर छत्तीसगढ़ के 3 वरिष्ठ पुलिस अफसरों को भारतीय  वाणिज्य व उद्योग महासंघ,नई दिल्ली(फिक्की) ने सामुदायिक पुलिसिंग के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए देश भर से 29 पुलिस अफसरों को चुना गया,जिसमें 3 छत्तीसगढ़ के आला पुलिस अफसरों का समावेश है। कोरबा से “न्यूज़ एक्शन वेब पोर्टल” के संपादक गेंदलाल शुक्ला ने बताया कि हमर छत्तीसगढ़ के 3 अफसरों में कोरबा के पुलिस कप्तान(एसपी)संतोष सिंह,राजधानी रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक(एसएसपी)प्रशांत अग्रवाल,तथा डीआईजी हिमानी खन्ना को उल्लेखनीय कार्य के लिए स्मार्ट पुलिसिंग के  प्रतिष्ठित अवार्ड से  ट्राफी  व प्रमाणपत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया है।गौरतलब है कि(1) संतोष सिंह को रायगढ़ में पद स्थापना के दौरान बाढ़ पीड़ितों की मदद करने संवेदना अभियान चलाने,(2)प्रशांत अग्रवाल को बिलासपुर में पदस्थ रहते चलाए साइबर जागरूकता के  साइबर मितान अभियान के लिए तथा (3)हिमानी खन्ना को वृद्धजनोँ की सुरक्षा के लिए पुलिस मुख्यालय द्वारा चलाए गए समर्पण अभियान के लिए प्रतिष्ठित अवार्ड से सम्मानित किया गया है।

ब्रेन हेमरेज़ की जटिल सर्जरी “बालको अस्पताल” में सफलता से,,,,,,


हमर छत्तीसगढ़ की ऊर्जा नगरी कोरबा में विश्व प्रसिद्ध वेदांता समूह की बालको एल्युमिनियम कम्पनी के आधुनिक स्वास्थ्य सेवाओं से सज्जित बालको अस्पताल में पहली दफे ब्रेन हेमरेज़ की जटिल सर्जरी(शल्य क्रिया)डॉक्टरों की टीम ने सफलतापूर्वक किया है।ब्रेन हेमरेज़ की जटिल सर्जरी को बालको के मुख्य चिकित्सा अधिकारी व हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ विवेक सिन्हा और उनकी टीम ने अंजाम दिया है।डॉ सिन्हा ने बताया कि मरीज के परिजनों के हवाले से बताया कि मरीज करीब 10 दिनों से बेहोशी की हालत में था,प्राथमिक उपचार के बाद भी हालत सुधर नहीं रही,तब कोरबा के न्यूरो सर्जन डॉ प्रदीप त्रिपाठी को दिखाया गया और उन्होंने समस्या को जटिल मानते हुए मरीज को बालको अस्पताल रेफर कर दिया।बालको अस्पताल में मरीज की गहन जांच की गई।एमआरआई करने से ब्रेन हेमरेज़ की जटिल समस्या सामने आई,तब डॉ विवेक सिन्हा व एनेस्थीसिया विशेषज्ञ डॉ राहुल अग्रवाल ने आपस में गहन विचार किया।न्यूरो सर्जन डॉ त्रिपाठी व डॉ हेमंत काजा ने बालको अस्पताल में 2 घण्टे तक पहली बार ऐसी सर्जरी की,जो 100 फीसदी सफल रही।डॉ सिन्हा ने बताया कि बालको अस्पताल में ट्रामा सर्जरी के अलावा घुटना व कूल्हे का प्रत्यारोपण के साथ मेरुदंड से सम्बंधित सर्जरी भी की जा रही है।मरीज व उनके परिजन बालको अस्पताल की सेवाओं व उनके व्यवहार से पूरी तरह संतुष्ट हैं।सर्जरी के बाद मरीज की हालत में तेजी से सुधार हो रहा है।गौरतलब है कि बालको अस्पताल में भारत सरकार की आयुष्मान योजना से ज़रूरतमंदों का इलाज किया जा रहा है।इस महत्वपूर्ण सर्जरी की सफलता के लिए बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी व निदेशक अभिजीत पति ने बालको अस्पताल की पूरी टीम के लिए बधाई व शुभकामनाएं व्यक्त की है।बालको अस्पताल में पुरुष-महिला से सम्बंधित सभी रोगों के इलाज की सेवाएं उपलब्ध हैं,जिनका लाभ कर्मचारियों से लेजर क्षेत्रीय जनता को भी भरपूर मिल रहा है।

गोंड समुदाय के कुमारसिंह तोप्पा को मिली पहली डॉक्टरेट,,,,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में भूपेश-सरकार द्वारा जाति-जनजाति समुदाय के लिए लोककल्याणकारी योजनाऐं लागू व जारी की गईं हैं।इन योजनाओं में अप्रत्यक्ष रूप से शिक्षा भी प्रतिभागी है और इसका सीधा प्रमाण मिलता है।राजधानी के एकमात्र कुशाभाऊ पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में, जहां जनसंचार विभाग से विभागाध्यक्ष व सीनियर प्रोफेसर डॉ शाहिद अली के कुशल मार्गदर्शन में गोंड जनजाति समुदाय के कुमारसिंह तोप्पा ने जनसंचार में सर्वथा पहली पीएचडी(डॉक्टरेट), करने का गौरव हासिल किया है।कुमारसिंह ने “गोंड जनजातीय  समाज में मीडिया  अभिवृत्ति का अध्ययन” विषयक शोध कर डॉ शाहिद अली के मार्गदर्शन में डॉक्टरेट हासिल कर छत्तीसगढ़ राज्य,गोंड समुदाय,विश्वविद्यालय,जनसंचार विभाग तथा विभागाध्यक्ष के कुशल मार्गदर्शन को गौरवान्वित किया है।कुमारसिंह का परिवार बस्तर के कांकेर जिले में दुर्गकोंदल ब्लाक में रहते हैं तथा उनके पिताश्री अन्नूराम किसानी करते हैं व माता श्रीमती फगनी बाई गृहणी हैं।विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.बल्देव भाई शर्मा सहित सभी प्राध्यापकों ने कुमारसिंह को डॉक्टरेट मिलने पर हार्दिक प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बधाई व आत्मीय शुभकामनाएं ज़ाहिर की हैं।

मध्यप्रदेश में सिवनी ज़िले की चर्चित शायरा व कॉमेडी शायर एहसान कुरैशी की धर्मपत्नी रचना एहसान फरमाती हैं,,,
“नफरत के हर एक सूर्य को ढलना होगा,,,
हर पल को  मुहब्बत में बदलना होगा”,,,,,।

Related posts

खुद को सुधारिये और समय पर दफ्तर आइये, लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी : तारन प्रकाश सिन्हा

newindianews

विधानसभा अध्यक्ष एवं कृषि मंत्री ने बीमा रथ को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

newindianews

नितिन नवीन और भाजपा बयानबाजी करने के बजाय माफी मांगे – मोहन मरकाम

newindianews

Leave a Comment