New India News
नवा छत्तीसगढ़राजनीति

“हमर छत्तीसगढ़” आसिफ इक़बाल की कलम से…अंक 78

एक लाख से अधिक युवाओं को बेरोजगारी भत्ते की राशि का वितरण,,,,,,


हमर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के एक लाख पांच हज़ार 395 युवाओं के खाते में बेरोजगारी भत्ते की किश्त का अंतरण किया है।गौरतलब है कि बेरोजगारी भत्ते के रूप में 32 करोड़ 35 लाख 25 हज़ार की धनराशि का अंतरण किया गया है।मालूम रहे कि पिछली बार पहली किश्त के बतौर 66 हज़ार 185 युवाओं को 16 करोड़ 54 लाख 62 हज़ार 500 रुपए की धनराशि अंतरित ई गई थी।इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कहना है कि राज्य के युवक-युवतियों को बेरोजगारी भत्ता देने से अधिक खुशी तब होगी जब उनके हाथों में रोजगार होगा।प्रदेश सरकार द्वारा लगातार रिक्तियों के पद भरे जाने विज्ञापन प्रकाशित किए जा रहें हैं।साथ ही,कौशल प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कर स्वावलंबी बनाने की दिशा में पहल भी की जा रही है।भूपेश बघेल ने आगे कहा कि य
युवाओं के लिए बेरोजगारी भत्ता एक छोटा-सा सहयोग है,जिससे उन्हें अपना लक्ष्य हासिल करने आगे बढ़ सकें।

विचारपुर की महिलाओं ने सामुदायिक बाड़ी से 5.42 लाख कमाया,जीवन बदला,,,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ में नवगठित खैरागढ़-छुईखदान-गंडई ज़िला के विचारपुर की महिलाओं ने सामुदायिक बाड़ी व केंचुआ पालन सेअपने जीवन में सुधार लाया है और 5 लाख 42 हज़ार रुपए की कमाई कर डाली।आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनने की कहानी उस सफलता से जुड़ती है जो गोधन न्याय योजना से विस्तारित होती है।ग्राम पंचायत विचारपुर खैरागढ़ में जय माँ दुर्गा स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने रोजमर्रा के कामों के साथ-साथ समूह का संचालन करने लगीं।शुरुआत में छोटी-छोटी बचत से कम ब्याज पर ज़रूरतमंदों की मदद करने लगे।जिससे समूह की लोकप्रियता बढ़ने लगी।समूह ने गौठान परिसर में केंचुआ पालन के व्यवसाय के साथ,-साथ जिमीकंद, हल्दी,अदरक व रागी मिलेट्स से पौष्टिक आहार बनाने जैसी गतिविधियां की जाने लगीं।समूह की मासिक आय 15 हज़ार मासिक व्यय 2 हज़ार रहा।इस तरह समूह ने 5 लाख 42 हज़ार की आय अर्जित कर ली।समूह का संकल्प है कि विभागीय शासकीय योजनाओं की सहायता से केंचुआ वर्मी कम्पोस्ट व पौष्टिक आहार जैसी गतिविधियां संचालित कर जीवन में बदलाव लाया जा रहा है।

महिलाएं बतौर उद्यमी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क में चला रहीं बेकरी यूनिट,,,

हमर छत्तीसगढ़ में “रीपा” अर्थात महात्मा गांधी ग्रामीण औद्योगिक पार्क की शुरुआत होने से ग्रामीण परिवेश की नई तस्वीर उभर रही है और अब शहरों से नहीं, अपितु गांवों से उद्यमी तैयार हो रहे हैं।इसका सीधा असर यह हो रहा है कि गांवों में ही महिलाओं व युवाओं को रोजगार मिलने से लोगों के पलायन में कमी आने लगी है।गौरतलब है कि सरगुजा जिले के हर विकासखंड में 2-2 रीपा की स्थापना की गई है।जहां लघु उद्यम के रूप में गतिविधियां शुरू की गई हैं।सरगुजा जिले के लखनपुर विकासखण्ड के अंतर्गत पुहपुटरा इंडस्ट्रियल पार्क में जया महिला समूह द्वारा बेकरी यूनिट का संचालन किया जा रहा है।यहां महिलाएं ब्रेड,टोस्ट,क्रीम रोल बना रहीं हैं,जिसकी आपूर्ति गांवों से लेकर शहरों तक हो रही है।इस योजना से ग्रामीण महिला समूहों को आर्थिक लाभ भी होने लगा है।जया महिला स्व-सहायता समूह की सदस्य सुमित्रा राजवाड़े ने बताया कि इस समूह में दस महिलाएं काम कर रहीं हैं और हमारे द्वारा ज़िला प्रशासन के सहयोग से रीपा में बेकरी यूनिट का संचालन किया जा रहा है।सुमित्रा राजवाड़े ने आगे बताया कि बेकरी यूनिट लगाने से पहले हमें बेकरी उत्पाद बनाने की पूरा प्रशिक्षण दिया गया।इसके बाद बेकरी मशीन लगाई गईं,जहां उत्पादन जारी है।महिला समूह की सदस्य आपूर्ति व बिक्री के समीकरण को बेहतर सरल तरीके से समझने की पूरी कोशिश कर रहीं हैं,ताकि बेकरी उद्यम सुचारू रूप से चला सकें।जब भूपेश सरकार ने हम पर भरोसा जताया है और रोजगार के साधन उपलब्ध कराएं हैं,तो हम सभी बड़ी मेहनत से काम कर रहीं हैं।सुमित्रा राजवाड़े ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री की दूरदर्शिता से महिलाओं की उद्यमी बनने का मौका मिला है।काम मिलने से महिलाओं में खुशी का माहौल बना हुआ है।

फुटपाथी दुकानदारों को छतरियां देने वाले भावेश भाई,,,,,,

हमर छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में कड़ी धूप में जीवनयापन करने वालों की तकलीफों दूर कर पुण्य कमाने वाले भावेश भाई हैं,जो मोची हो या सब्जी बेचने वाले गरीब छोटे-छोटे दुकानदारों को छतरियां बांटकर राहत देने के काम में जुटे रहते है।लोग इन्हें भावेश भाई छतरी वाले के नाम से पुकारते हैं।भावेश भाई कहते हैं यदि 5-5 दुकानदार मिलकर छोटे-छोटे दुकानदारों के सुख-दुख को बांटे तो असंख्य लोगों की मुसीबतें दूर हो सकेंगी और लोगों को गर्मी के दिनों में अपनी रोजी-रोटी कमाने में राहत मिला करेगी।भावेश भाई की समाजसेवा को आज लोग सलाम करते हैं।

डैम में गिरे मोबाइल के लिए लाखों लीटर पानी की बर्बादी,फूड इंस्पेक्टर को 53 हज़ार का नोटिस,,,,,


हमर छत्तीसगढ़ के परलकोट जलाशय वेस्ट वियर में पखांजुर के फूड इंस्पेक्टर का मोबाइल गिर गया था,जिसके लिए डैम का लाखों लीटर पानी बहाकर बर्बाद करना फूड इंस्पेक्टर को भारी पड़ गया।अब सिंचाई विभाग कपासी द्वारा फूड इंस्पेक्टर को रिकवरी नोटिस भेजकर 53 हज़ार रुपए 10 दिनों के भीतर पटाने के लिए कहा गया है।लाखों लीटर पानी की बर्बादी को लेकर प्रशासन की काफी आलोचना होने लगी थी।मोबाइल तो मिला,लेकिन खराब हो गया।गौरतलब है कि डैम से 20 लाख लीटर बर्बाद हो गया,,जिससे 1500 एकड़ खेतों की सिंचाई हो सकती थी।

रोहिणीपुरम में 38वें योगाभ्यास केंद्र का शुभारंभ,,,,


योग आयोग के तत्वावधान में नगर निगम में नियमित योगाभ्यास के लिए रोहिनीपुरम में 38 वें केंद्र का शुभारम्भ संसदीय सचिव व आरायपुर पश्चिम के युवा विधायक विकास उपाध्याय ने योग आयोग के अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा की अध्यक्षता में किया।तरुण गार्डन में केंद्र का शुभारम्भ करते हुए संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने कहा कि योग आयोग के अध्यक्ष के नेतृत्व में लोगों के बीच योग व स्वास्थ्य के प्रति जन-जागरूकता के विस्तार के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की।विधायक विकास उपाध्याय ने नियमित योगाभ्यास केंद्रों में शेड निर्माण कराने की भी घोषणा की।

देश के मशहूर शायर वसीम बरेलवी फरमाते हैं,,

“मैं मुस्कुराहटें क्या मांगता मगर ऐ दोस्त,,,
कुछ आसरे तो ज़रूरी है ज़िन्दगी के लिए”

Related posts

मोहर ने खुशी जाहिर करते हुए मंत्री और छत्तीसगढ़ सरकार के प्रति जताया आभार

newindianews

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने प्रधानमंत्री श्री मोदी को पत्र लिखकर सुझाव दिया

newindianews

कवर्धा में 13 अगस्त को निकलेगी तिरंगा यात्रा मंत्री अकबर करेंगे नेतृत्व

newindianews

Leave a Comment